Baba Neeb Karauli Kainchi Dham बाबा नीब करौली कैंची धाम के 60वें प्रतिष्ठा दिवस पर आयोजित कैंचीधाम महोत्सव

Baba Neeb Karauli Kainchi Dham इस साल बाबा नीब करौली कैंची धाम के 60वें प्रतिष्ठा दिवस पर आयोजित कैंचीधाम महोत्सव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खुद व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग की।

 

cm dhami के निर्देश पर पहाड़ों के लिए आफत बन रहे प्लास्टिक कचरे को जोशीमठ नगरपालिका ने आय का साधन बना लिया है।

Whatsapp Group join
Please Join Whatsapp Channel
Please Join Telegram channel

 

नतीजतन, Baba Neeb Karauli Kainchi Dham रिकॉर्ड भीड़ के बावजूद हर श्रद्धालुओं ने बाबा के सुगम दर्शन किए

सुरक्षित यात्रा के साथ वापस लौटे। कैंचीधाम में बाबा नीब करौरी के जन्मोत्सव के सफल संचालन से सरकार ने सुगम, सुरक्षित और सुव्यवस्थित यात्रा का संदेश दिया है। महोत्सव में पहली बार रिकॉर्ड ढ़ाई लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं के पहुंचने पर सरकार ने ठोस प्रबंधन की नजीर पेश की है।

 

Baba Neeb Karauli Kainchi Dham खासकर चीड़ और अन्य जंगल वाले रास्ते पर मोबाइल टीमें गश्त कर रही थी।

मुख्यमंत्री ने इसके लिए हल्द्वानी से Baba Neeb Karauli Kainchi Dham तक अलग अलग जगह करीब 45 किमी में विभिन्न व्यवस्थाओं के लिए 22 मजिस्ट्रेटों को जिम्मेदारी दी। जबकि हल्द्वानी बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से कैंचीधाम दर्शन को आने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए करीब 460 बसें और टैक्सी की शटल सेवा शुरू की गई थी। इस दौरान श्रद्धालुओं की सुविधा को 7 पानी के टैंकर, 6 मोबाइल शौचालय, मेडिकल टीमें समेत अन्य जरूरी व्यवस्थाएं की गई थी।

 

कैंचीधाम महोत्सव में पहली बार एसडीआरएफ और एनडीआरएफ को भी मुस्तैद रखा गया था। इसके अलावा वन विभाग और अग्निशमन विभाग को भी तैनात किया था। भीषण गर्मी से जंगलों में लग रही आग या दुर्घटना की संभावनाओं को देखते हुए मुख्यमंत्री द्वारा पूरी टीमें सक्रिय की गई थी। इसकी मॉनिटरिंग भी लगातार की जा रही थी। खासकर चीड़ और अन्य जंगल वाले रास्ते पर मोबाइल टीमें गश्त कर रही थी।

Leave a Comment