Punjab:आ रहा मानसून, UP-बिहार में बारिश, जानें 10 राज्यों का मौसम

Punjab  जिस मानसून का लोगों को बेसब्री से इंतजार है वह तेज रफ्तार के साथ आगे बढ़ रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, 27 से 30 जून के बीच देश के कई हिस्सों में मानसून की एंट्री हो जाएगी. इससे पहले प्री-मानसून दिल्ली-एनसीआर, यूपी, बिहार समेत कई राज्यों में मौसम सुहावना किए हुए है. कई इलाको में हल्की, मध्यम बारिश भी देखी जा रही है. हालांकि, Punjab और बिहार के कुछ इलाकों में लू की स्थिति देखी गई थी.

 

 

Whatsapp Group join
Please Join Whatsapp Channel
Please Join Telegram channel

Punjab भीषण गर्मी और हीट वेव के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली अब उमस भरी गर्मी से बैचैन है.

लोग मानसून के आने का इंतजार कर रहे हैं. इस बीच मौसम विभाग ने दिल्ली के लिए बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है. 29 और 30 जून को तेज आंधी के साथ बारिश की संभावना जताई है. सप्ताह की शुरुआत से पहले ही दिल्ली-एनसीआर के आसमानों में बादल डेरा डाले हुए हैं. कही-कही बारिश की फुहारें लोगों को राहत दे रही हैं.

बुधवार को उत्तर प्रदेश के पश्चिमी इलाकों में हल्की व पूर्वी इलाके में गजर चमक के साथ बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि 28 जून को उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, उत्तरी अरब सागर और गुजरात, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, साथ ही छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार के शेष हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं. मौसम विभाग के मुताबिक, राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान में 30 जून तक मानसून आ जाएगा.

 

 

Punjab police: पुलिस विभाग में बड़ा फेरबदल,साढ़े दस हजार तबादले

 

मानसून की उत्तरी सीमा वेरावल, राजपीपला, उज्जैन, विदिशा, सिद्धि, चाईबासा, हल्दिया, पाकुड़, साहिबगंज और रक्सौल से होकर गुजर रही है. मध्य क्षोभमंडलीय पश्चिमी हवाओं में एक गर्त के रूप में पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है, जिसकी धुरी अक्षांश 28°N के उत्तर में मोटे तौर पर देशांतर 70°E के साथ औसत समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर है.

दक्षिण-पूर्व पाकिस्तान और उसके आसपास के इलाकों में समुद्र तल से 0.9 किलोमीटर ऊपर चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है. पूर्वोत्तर असम के ऊपर समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर ऊपर तक फैला चक्रवाती परिसंचरण बना हुआ है.

Leave a Comment