pm आवास के लिए देने पड़े 30 हजार…. डूडा पीओ निलंबित, इंजीनियर बर्खास्त

बदायूं।pm आवास योजना के नाम पर धन उगाही का वीडियो वायरल होने के बाद शासन ने डूडा (जिला नगरीय विकास अभिकरण) के परियोजना अधिकारी (पीओ) देवेश कुमार सिंह को निलंबित कर दिया। संविदा पर तैनात सिविल इंजीनियर शिव कुमार को भी बर्खास्त किया गया है। साथ ही परियोजना की निगरानी के लिए नामित संस्था सरयू बाबू इंजीनियर फॉर रिसोर्स डेवलमेंट को डिबार कर दिया गया।Shri Ram Mandir:तीन दशक पूर्व अयोध्या में श्री भगवान राम मंदिर के लिए देशभर में चले कार सेवक सत्याग्रह कार्यक्रम में सहसवान के भी दो दर्जन से ज्यादा से लोग जेल गए।

 

pm आवास उगाही का यह मामला तीन दिन पहले उसावां में विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान सामने आया था।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आंवला सांसद धर्मेंद्र कश्यप ने योजना के लाभार्थियों को प्रतीकात्मक रूप से चाबियों का वितरण किया था। इसी दौरान सांसद ने एक लाभार्थी से पूछा कि pm आवास की किस्त पाने के लिए उन्हें कोई पैसा तो नहीं देना पड़ा। इस पर बुजुर्ग शारदा ने बताया कि उनसे 30 हजार रुपये लिए गए। यह सुनकर सांसद ने डूडा के पीओ को ही मामले की जांच के निर्देश दे दिए। ऐसा कहने से उस समय तो मामला शांत हो गया,

 

pm आवास घटनाक्रम का वायरल हुआ वीडियो शासन तक पहुंच गया।Official Webside pm avas

इसके बाद राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) के अपर निदेशक आनंद कुमार शुक्ला ने परियोजना अधिकारी को निलंबित कर दिया है। यहां बता दें कि देवेश कुमार, उप्र सहकारी ग्राम विकास बैंक लिमिटेड के मूल कर्मी है। उन्हें अभिकरण में प्रतिनियुक्ति के आधार पर परियोजना अधिकारी के पद पर तैनात किया गया था।

बुजुर्ग महिला ने जैसे ही बताया कि pm आवास योजना के अंतर्गत आवास के लिए रिश्वत दी है तो प्रमुख सचिव को पूरे मामले से अवगत कराया और इस मामले में कार्रवाई करने को कहा, जिस पर शासन स्तर से कार्रवाई की गई।

शासन स्तर से इस मामले में कार्रवाई की गई है। जांच भी कराई जा रही थी। सरकार की योजनाओं का लाभ सीधे पात्र व्यक्ति को मिले, इसमें किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।- मनोज कुमार, डीएम

 

Leave a Comment

Whatsapp Group join
ऐसे खबरें पढ़ने के लिये चैनल को जाइवन करें
ऐसे खबरें पढ़ने के लिये चैनल को जाइवन करें
×