राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के हस्तक्षेप के बाद हत्या का प्रयास अनुसूचित जाति उत्पीड़न की धाराओ में अपराध पंजीकृत

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के हस्तक्षेप के बाद हत्या का प्रयास अनुसूचित जाति उत्पीड़न की धाराओ में अपराध पंजीकृत

बदायूं।3 मार्च को ग्राम प्रधान पति द्धारा ग्राम के अनुसूचित जाति के एक व्यक्ति क़ो बुलाए जाने पर समय से न पहुंचने से आकोर्षित प्रधान पति ने लात घुसो से उसे पर बौछार कर दी तथा मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया पीड़ित ने थाना कादर चौक पुलिस को मामले की रिपोर्ट दर्ज कराए जाने के लिए प्रार्थना पत्र दिया।परंतु ग्राम प्रधान की दबंगई के चलते पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की तो पीड़ित ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग नई दिल्ली को प्रार्थना पत्र भेज कर न्याय की गुहार लगाई जिस पर अध्यक्ष राष्ट्रीय मानव आयोग ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को मामले की तत्काल रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए जिस पर संबंधित थाना कादर चौक पुलिस ने दबंग ग्राम प्रधान पति के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया।
थाना कादर चौक के ग्राम घटियारी निवासी सत्यवीर वाल्मीकि पुत्र शामली ने राष्ट्रीय अध्यक्ष मानव अधिकार आयोग नई दिल्ली को प्रेषित पत्र में बताया कि 3 मार्च वर्ष 2024 को उसके पास ग्राम के प्रधान पति रामगोपाल पुत्र रामचंद्र ने जो दबंग प्रगति का है उसके डर की वजह से कोई मुंह नहीं खोलता मोबाइल पर कॉल कर कर बुलाया की तुरंत आ जाओ कुछ आवश्यक कार्य है उस समय बरसात होने लगी जिसके कारण प्रार्थी वर्षा से बचाव के चलते कहीं रुक गया प्रधान पति के पास पहुंचने में उसे देरी हो गई जैसे ही वह बारिश रुकते ही प्रधान पति राम गोपाल के पास पहुंचा पहुंचते ही उसने गंदी-गंदी गालियां देना प्रारंभ कर दिया तथा मारपीट की साथ ही उसने तमंचे से फायर करके हत्या करने का प्रयास किया मैंने शोर मचा दिया तो काफी लोग मौके पर पहुंच गए जैसे तैसे वह मुझे उपरोक्त दबंग ग्राम प्रधान पति से बचा कर ले गए वरना वह मेरी हत्या कर देता घटना की रिपोर्ट लिखने के लिए थाना कादर चौक प्रार्थना पत्र दिया परंतु पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की जिसके कारण ग्राम प्रधान पति के हौसले बुलंद हो गए।
पत्र में बताया ग्राम प्रधान पति रामगोपाल की दबंगई के चलते कोई उसके सामने मुंह नहीं खोलता वह ग्राम में कमजोर टपके के लोगों के साथ अक्सर मारपीट करता रहता है।
पीड़ित सत्यवीर वाल्मीकि ने राष्ट्रीय अध्यक्ष मानव अधिकार आयोग से मामले की रिपोर्ट दर्ज करते हुए न्याय की गुहार लगाई जिस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष मानव अधिकार आयोग ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को मामले की तत्काल रिपोर्ट दर्ज करने की निर्देश दिए जिस पर थाना कादर चौक पुलिस ने सत्यवीर वाल्मीकि की प्रार्थना पत्र पर आरोपी ग्राम प्रधान पति राम गोपाल के विरुद्ध धारा 307/323/504 अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति नशंस निवारण अधिनियम 1989 संशोधन 2015 धारा3(2)वी में मामले की रिपोर्ट दर्ज कर ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है।रिपोर्ट-एस.पी सैनी (समर इंडिया)

Leave a Comment