सुरक्षा गार्ड की 24 दिन पूर्व लाइसेंसी एक नाली बंदूक तथा 16 कारतूस चोरी चले जाने की पुलिस ने नहीं की रिपोर्ट दर्ज।

पीड़ित ने मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत कर रिपोर्ट दर्ज किए जाने की गुहार

रिपोर्ट- एस.पी सैनी
सहसवान। सहसवान चमनपुरा मार्ग पर महावा नदी पुल के निकट स्थित एक हॉस्पिटल में 24 दिन पूर्व गार्ड की लाइसेंसी बंदूक चोरी चले जाने की थाना कोतवाली पुलिस को नामजद अभियुक्त के विरुद्ध दी गई तहरीर के बावजूद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर देना मुनासिब नहीं समझा पीड़ित ने मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत करते हुए घटना की नामजद रिपोर्ट दर्ज करते हुए चोरी गई लाइसेंसी बंदूक व 16 कारतूस बरामद कर अभियुक्त के विरुद्ध कार्रवाई किए जाने की मांग की है। प्रभारी निरीक्षक ने रिपोर्ट न लिखने के बाबत जानकारी मांगे जाने पर बताया कि मामले की जांच हल्का उपनिरीक्षक द्वारा की जा रही है।

जांच रिपोर्ट मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर ली जाएगी।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को पोर्टल पर की गई शिकायत में रामवीर सिंह पुत्र राम सिंह निवासी ग्राम लधपुरा थाना कोतवाली सहसवान ने बताया प्रार्थी के पास एक नाली बंदूक ए/14281 तथा लाइसेंस नंबर 9314 नाम है। प्रार्थी अपनी बंदूक लेकर सहसवान से चमनपुरा जाने वाले मार्ग पर महावा नदी के किनारे स्थित एक हॉस्पिटल में काफी समय से रात के समय गार्ड की नौकरी करता है। प्रतिदिन की प्रार्थी हॉस्पिटल में नाइट ड्यूटी करने के लिए अपनी लाइसेंसी बंदूक तथा 16 कारतूस लेकर शाम को हॉस्पिटल में पहुंचा था जहां प्रातः 5:30 बजे के लगभग ड्यूटी करने के उपरांत हॉस्पिटल में ही बंदूक रखकर सोफे पर सो गया। जब उसकी आंख खुली 2 लाइसेंसी बंदूक तथा कारतूस हॉस्पिटल में काम करने वाला जैद पुत्र अज्ञात मोहल्ला काजी थाना कोतवाली सहसवान चोरी करके ले गया। प्रार्थी ने प्रार्थना पत्र में बताया कि उपरोक्त जैद अक्सर उसके पास ही ड्यूटी करने के उपरांत सो जाता था। परंतु उस रात उसके पास नहीं आया वह अस्पताल के अलग कमरे में जाकर सो गया प्रार्थी को शक है। कि प्रार्थी की लाइसेंसी बंदूक लाइसेंस नंबर 9 314 तथा 16 कारतूस चोरी करके ले गया।


प्रार्थी घटना की रिपोर्ट दर्ज कराए जाने के लिए थाना कोतवाली पहुंचकर प्रार्थना पत्र भी दिया परंतु पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की।
पीड़ित रामवीर ने मुख्यमंत्री को पोर्टल पर की गई शिकायत में बताया की घटना के 24 दिन बाद भी पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं की नहीं घटनास्थल का मौका मुआयना करना उचित समझा प्रभारी निरीक्षक संजीव शुक्ला से लाइसेंसी बंदूक की चोरी घटना के बाबत जानकारी चाही तो उन्होंने बताया कि पीड़ित रामवीर ने प्रार्थना पत्र दे दिया है। जिसकी जांच के लिए हल्का उपनिरीक्षक को दे दिया गया था। परंतु हल्का उपनिरीक्षक द्वारा छुट्टी पर चले जाने के उपरांत प्रार्थना पत्र की जांच रिपोर्ट नहीं मिलने के कारण रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी। जांच रिपोर्ट मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर लाइसेंसी बंदूक तथा कारतूस बरामद कर दोषी अभियुक्त को जेल भेजा जाएगा।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper