कलयुग का ये श्रवण कुमार चर्चा का विषय बन गया.

बुलंदशहर का श्रवण कुमार बुजुर्ग मां और दिव्यांग बड़े भाई को कांवड़ में बैठाकर हरिद्वार से ला रहा पैदल

 

मुजफ्फरनगर। नेटवर्क

एक शख्स इन दिनों सबके बीच चर्चा का विषय बना हुआ है. ये कलयुगी श्रवण कुमार हरिद्वार, हर की पौड़ी से गंगा जल भरकर लाने के साथ ही एक नेक काम और कर रहा है. यह अपनी कांवड़ में बुजुर्ग मां और दिव्यांग बड़े भाई को बैठाकर भी ला रहा है. जब यह शख्स मुजफ्फरनगर पहुंचा तो हर देखने वाला आश्चर्यचकित रह गया.

 

बुलंदशहर जनपद के शेरपुर गांव निवासी विजय गुज्जर नाम का शिव भक्त अपनी 85 वर्षीय बुजुर्ग मां जग्गो देवी और अपने दिव्यांग बड़े भाई को हरिद्वार से गंगा जल भरकर अपनी कावड़ में बैठाकर पैदल यात्रा कर रहा है. इस दौरान विजय का एक दोस्त भी उसके साथ है. जब मुज़फ्फरनगर जनपद में अपनी कावड़ लेकर विजय पहुंचा तो कलयुग का ये श्रवण कुमार चर्चा का विषय बना गया.

 

इस शिव भक्त विजय गुज्जर के पिता की काफी समय पहले मृत्यु हो चुकी है. विजय के अनुसार, यह उनकी दूसरी कांवड़ है. दो साल पहले जब वह अपनी पहली कांवड़ लेकर आए थे तो हरियाणा के एक भोले भक्त को इसी तरह कांवड़ में अपने माता पिता को यात्रा कराते हुए देखा था.

 

उस भक्त को देखने के बाद विजय ने भी इस तरह से कांवड़ लाने की ठान ली थी. यही कारण है कि इस बार वह अपनी कांवड़ में अपने दिव्यांग बड़े भाई और अपनी बुजुर्ग मां को बैठाकर अपने एक दोस्त की मदद से यात्रा पूरी कर रहे हैं.

 

शिव का ये भक्त रोजाना 20 से 25 किलोमीटर अपनी कांवड़ लेकर पैदल चलता है. 26 जुलाई को अपने गांव के शिव मंदिर में पहुंचकर ये शिव का भक्त जलाभिषेक करेगा. अपनी यात्रा के बारे में बताते हुए विजय ने बताया की मन की भावना जागी थी, तब जाकर हर की पौड़ी से जल उठाया है. ये सौभाग्य है, किसी किसी को ही अपनों की यूं सेवा करने का मौका मिलता है.

Related Articles

Back to top button
E-Paper