आपराधउत्तर प्रदेश

हुक्काबार संचालक की पुलिस से यारी अब पड रही भारी, पुलिस जांच में हुक्काबार मामले की तपरतें खुलती जा रही।

हुक्काबार संचालक की पुलिस से यारी अब पड रही भारी, पुलिस जांच में हुक्काबार मामले की तपरतें खुलती जा रही।

जयकिशन सैनी

बदायूँ। संचालित हुक्का बार संचालक को पुलिस की यारी अब भारी पड़ती दिख रही है। रेस्टोरेंट के नाम से हुक्का बार चलता रहे इसलिए संचालक पुलिस के खिदमतदार बने थे। वहीं फैज शातिरों के साथ लूट की योजना बनाता था। एक बार तो दूसरे गुट को हुक्काबार में आने से रोक दिया तो सरेराह तमंचे चमक गये। अब जैसे -जैसे पुलिस की जांच आगे बढ़ रही है वैसे-वैसे हुक्काबार संचालक के क्रियाकलापों का चिट्ठा खुलता जा रहा है।

पुलिस जांच में हुक्काबार मामले की तपरतें खुलती जा रही हैं। यहां सामने आया है कि हुक्काबार का संचालक ने रेस्टोरेंट इस उदेश्य से खोला था कि इसकी आड़ में वह हुक्काबार चलता रहे। वहीं लुटेरों से दोस्ती करना उसकी मजबूरी हो गयी क्योंकि हुक्काबार को संचालित करने व लोगों को ठगने के लिए शातिरों की आवश्यकता रहती है। संचालक पुत्र अरबाज रेस्टोरेंट की आड़ में हुक्काबार चला आ रहा था। एक सिपाही इस हुक्काबार से महीनेदारी वसूल करता था। यह सब खेल चौकी से चंद कदम की दूरी पर चल रहा था।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper