उत्तर प्रदेश

अफीम न दिखाकर तमंचा व चाकू में तस्करों का चालान करने बाले एक दरोगा सहित पांच सिपाहियों को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने किया लाईन हाजिर,

लाईन हाजिर पुलिसकर्मियों पर तस्करों से अफीम बरामद होने के बाद अफीम न दिखाकर तमंचा व चाकू में तस्करों का चालान करने का लगा था आरोप,

अफीम न दिखाकर तमंचा व चाकू में तस्करों का चालान करने बाले एक दरोगा सहित पांच सिपाहियों को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने किया लाईन हाजिर,

लाईन हाजिर पुलिसकर्मियों पर तस्करों से अफीम बरामद होने के बाद अफीम न दिखाकर तमंचा व चाकू में तस्करों का चालान करने का लगा था आरोप,
जयकिशन सैनी (समर इंडिया)

बदायूं। सदर कोतवाली में तैनात मालवीय गंज चौकी इंचार्ज आकाश कुमार समेत 5 सिपाहियों को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर ओपी सिंह ने लाईन हाजिर कर दिया। इन पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि बीती 11 नवंबर को मूसाझाग थाना क्षेत्र में छापामारी करके अफीम तस्करों को हिरासत में लिया था जबकि बाद में उनके पास से बरामद अफीम रख ली और तमंचा और चाकू में इन तस्करों का चालान कर दिया। मामले की जांच आईजी बरेली रेंज के निर्देश पर एसपी सिटी अमित किशोर श्रीवास्तव ने की और सभी को दोषी पाते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को रिपोर्ट भेजी। बाद में यह कार्यवाही की गई।

भारी मात्रा में बरामद की गई थी अफीम:- पुलिस के मुताबिक 11 नवंबर को एसआई आकाश कुमार समेत कांस्टेबल आशीष, रिंकू, हरिशंकर, निशांत, और विपिन ने मिलकर मूसाझाग इलाके में अफीम तस्करों की घेराबंदी करके उन्हें धर दबोचा। बाद में उन्हें मूसाझाग पुलिस को देने के स्थान पर सीधे अपने साथ बदायूं ले आए यहां इनके पास से भारी मात्रा में अफीम बरामद हुई। तथा बरामद अफीम न दिखाकर तस्करों का चालान तमंचा और चाकू अपने पास से रखकर कर दिया गया।

मोटी डीलिंग में पहले भी हुई छीछालेदर:- दरोगा आकाश पहले भी तस्करों के साथ मोटी डीलिंग में खाकी की छीछालेदर करा चुके है। लगभग डेढ़ साल पहले वह सिविल लाइंस थाना क्षेत्र की शेखुपुर चौकी का प्रभारी था। वहां तस्करों को पकड़ने के बाद लगभग आधा किलो अफीम हथिया ली गई वही तस्करों से रकम की मोटी डीलिंग भी की गई। हालांकि तत्कालीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने मामले की जांच कराई और इस मामले में दरोगा समेत कुछ पुलिसकर्मियों पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा भी लिखा गया था। सभी निलंबित भी हुए थे। बाद में दरोगा आकाश हाईकोर्ट से स्टे ले आए। और बहाल होकर फिर से बदायूं में ही तैनाती करा ली। जबकि इसके बाद मालवीय गंज चौकी इंचार्ज के पद पर रहते हुए यह कारनामा कर डाला। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दरोगा सहित छह पुलिसकर्मियों को लाईन हाजिर कर दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − five =

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper