जिंदगी की हकीकत बस इतनी सी है,कि इंसान पल भर में याद बन जाता है !

समर इंडिया के लिए कोच जालौन से गिरजाशंकर अग्रवाल की रिपोर्ट –

गहोई सेवा समिति कोंच में आयोजित श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए प्रख्यात साहित्यकार डॉ हरी मोहन गुप्ता ने मध्य प्रदेश के पूर्व राजस्व मंत्री लक्ष्मी नारायण गुप्ता एवं राज फाउंडेशन मुंबई के संस्थापक राजकुमार पिपरसैनियां की मां श्रीमती ईश्वरी देवी पिपरसैनियां को श्रद्धासुमन समर्पित करते कहा कि जिंदगी की हकीकत बस इतनी सी है, कि इंसान पल भर में याद बन जाता है, स्मृतिशेष गुप्ता जी का जीवन प्ररेणादायी है उन्होंने जीवन भर समाज के उत्थान का काम किया।


केशरीमल तरसौलिया की अध्यक्षता में आयोजित सभा में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया और अपनी अपनी ओर से श्रंद्धाजलियां अर्पित की, भाजपा अध्यक्ष कोंच सुनील लोहिया ने कहा कि हम सबको श्री लक्ष्मी नारायण जी गुप्ता के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए, साधारण परिवार में जन्म लेने के बाद भी आदरणीय गुप्ता जी अपने व्यक्तित्व को बड़ी ऊंचाईयों तक पहुंचाया, जीवन और मरण तो प्रकृति का नियम है जो आया वो जाएगा ही, गुप्ता जी ने 104 वर्ष तक सक्रिय रहकर समाज और देश की सेवा की यह बहुत बड़ी बात है।भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नगर अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता ने भी गुप्ता जी को श्रद्धांजलि समर्पित करते हुए कहा कि वह पिछोर से पांच बार विधायक और श्री सुंदरलाल पटवा सरकार में दो बार राजस्व मंत्री रहे मध्य प्रदेश की राजस्व व्यस्था में उन्होंने बड़े बदलाव किए परिणाम स्वरूप प्रदेश की अर्थव्यवस्था मजबूत हुई।आनंद कुमार सकेरे ने गुप्ता जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वह बहुत मिलनसार और सहृदय व्यक्ति थे हर जरूरतमंद की मदद किया करते थे उनका जाना समाज के लिए बहुत बड़ी क्षति है

जिसकी पूर्ति होना मुश्किल है।सभा के अध्यक्ष केसरीमल तरसौलिया ने भी श्रद्धेय नन्ना जी के जीवन पर प्रकाश डाला उन्होंने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि नन्ना जी का जन्म ईसागढ़ जिला अशोकनगर मध्य प्रदेश में 06 जून 1918 को हुआ था प्रारंभिक शिक्षा के उपरांत उन्होंने शासकीय लिपिक के रूप में अपना कैरियर शुरू किया,1943 में नौकरी छोड़कर अशोकनगर में वकालत करनी शुरू की 1947 वह डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के संपर्क में आए तथा हिन्दू महासभा के महामंत्री बने मध्यप्रदेश के गठन के बाद पहली विधानसभा के लिए पिछोर विधानसभा के लिए जनसंघ से चुनाव लडा और जीते उन्होंने पांच बार पिछोर विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया।दो बार मंत्री बने, 1950 में डॉ मुखर्जी ने जब जनसंघ की स्थापना की जिसमें लक्ष्मीनारायण गुप्ता जी ने बड़ी और अहम भूमिका निभाई थी,

जनसंघ जो कालांतर में भारतीय जनता पार्टी के रूप दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनी उसके निर्माण की नींव भी श्रीमान लक्ष्मी नारायण गुप्ता जी ने तैयार की थी, उन्होने श्रीमती ईश्वरी देवी को भी श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनके पुत्र राजकुमार पिपरसैनियां जी ने उनके जीवन काल में ही राज फाउंडेशन की ओर से मुंबई में ईश्वरी सेवा सदन की स्थापना की जहां कैंसर रोगियों को ठहरने और भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है जो अनुकरणीय है।इस अवसर पर श्रीकांत गुप्ता, समिति के मंत्री राजकुमार मोर सहमंत्री अंचल गुप्ता, नरेश लोहिया,संजय लोहिया राम जी गुप्ता देवगांव बाले श्याम बिहारी गुप्ता जीते श्रीराम मोहन जीत बिलासी, सोमनाथ सोनी,मनीष नगरिया राधेश्याम नगरिया आदि ने भी दिवंगत आत्माओं को अपनी ओर से श्रंद्धाजलियां दी, कार्यक्रम का संचालन इं राजीव रेजा ने किया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper