उत्तर प्रदेश

रंगशाला में मारपीट के दौरान चार लोगो के विरूद्ध दर्ज हुई नामजद रिपोर्ट दर्ज, रिपोर्ट दर्ज होते ही पुलिस ने दी दबिश, आरोपी घर से हुए फरार

रंगशाला में मारपीट के दौरान चार लोगो के विरूद्ध दर्ज हुई नामजद रिपोर्ट दर्ज, रिपोर्ट दर्ज होते ही पुलिस ने दी दबिश, आरोपी घर से हुए फरार

जयकिशन सैनी (समर इंडिया)

उझानी। पिछले दिनों बरात चढ़त के दौरान रंगशाला में नर्तकी को खींचने की कोशिश के बाद हुई मारपीट के मामले में पुलिस ने दूल्हे के भाई की तहरीर पर चार हमलावरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बृहस्पतिवार तड़के दोबारा दबिश भी दी, लेकिन आरोपी घरों पर नहीं मिले।
घटना 28 नवंबर देर रात करीब 11 बजे की है। कोतवाली क्षेत्र के गांव खजुरारा निवासी व्यक्ति की बेटी की बरात दातागंज के मोहल्ला बड़ापारा से आई थी। दूल्हा तुलसी जिस रंगशाला के सोफे पर बैठा था, उसी पर नर्तकियां डांस कर रहीं थीं। आरोप है कि उसी दौरान खजुरारा निवासी संजीव पुत्र तालेवर ने नशे की हालत में रंगशाला के मंच पर चढ़कर नर्तकी को खींचने की कोशिश की। नर्तकी तो बच गई, लेकिन बरातियों ने आरोपी संजीव को मंच से उतार दिया था। इससे गुस्साए संजीव, उसके पिता तालेवर, गांव के ही रामबहादुर और रोहताश ने दूल्हे के चचेरे भाई आलोक की जमकर पिटाई कर दी थी। पुलिस ने घायल आलोक के भाई रिंकू की तहरीर पर शुरू में कार्रवाई नहीं की। हालांकि पुलिस दबिश देने आरोपियों के घर पहुंची थी, लेकिन घर पर कोई नहीं मिला था। पुलिस ने घटना के तीसरे दिन 30 नवंबर को नामजद एफआईआर दर्ज कर ली है। घायल आलोक का अभी बरेली के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। बता दें कि मारपीट के दौरान दूल्हे के गले से सोने की चेन और नोटों का हार भी खींच लिया गया था। एफआईआर में नोटों का हार और सोने की चेन घटना के दौरान गुम हो जाने का भी जिक्र है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper