देवभूमि (उत्तराखंड)

जोशीमठ का संकट बद्रीनाथ हाईवे तक पहुंचा, हाईवे पर आई दरारें

Joshimath's crisis reached Badrinath Highway, cracks appeared on the highway

जहाँ एक तरफ जोशीमठ में संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीँ इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमे आपको बताते चले कि जोशीमठ का संकट अब बद्रीनाथ हाईवे तक पहुंच गया है. चमोली के डीएम हिमांशु खुराना ने बताया कि बद्रीनाथ हाईवे पर दरारें आ गई हैं.

वहीँ दूसरी ओर डीएम ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 24 और 25 जनवरी को भारी बारिश/बर्फबारी की भविष्यवाणी की है. इसे लेकर अफसरों को निर्देश दिए गए हैं.समाचार एजेंसी ANI के अनुसार चमोली के डीएम हिमांशु खुराना ने कहा कि केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान की एक टीम को निरीक्षण के लिए मौके पर भेजा गया था.

आपको बताते चले कि टीम ने निरीक्षण करने पर बताया कि यहां दरारें देखी गई हैं. उन्होंने कहा कि इन दरारों के पीछे हाईवे के किनारे बसाहट हो सकती है. हालाँकि डीएम ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने 24 और 25 जनवरी को भारी बारिश/बर्फबारी की भविष्यवाणी की है. इसे देखते हुए नोडल अधिकारियों को राहत शिविरों में कंबल, हीटर और जनरेटर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं.

लेकिन आपको बताते चले कि लोक निर्माण विभाग (PWD) और सीमा सड़क संगठन (BRO) को अलर्ट पर रहने और बर्फबारी के कारण उत्पन्न अवरोधों को दूर करने के लिए कहा गया है. दरअसल, जोशीमठ के संकट को देखते हुए स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. क्योंकि कई घरों, होटलों और अन्य सार्वजनिक प्रतिष्ठानों में भूस्खलन के कारण दरारें आ गईं थीं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 8 =

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper