संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड : पहले व दूसरे चक्र के पंजीकरण की तिथि छह तक बढ़ी

लखनऊ। कई जिलों में इंटरनेट सेवा बाधित होने के कारण उप्र संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड की काउंसिंलिंग के प्रथम व दूसरे चक्र के छूटे हुए अभ्यर्थियों के लिए पंजीकरण व च्वाइस फिलिंग की प्रक्रिया की तिथि छह अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया। यह निर्णय अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए किया गया है, जिससे वे अपनी च्वाइस फिलिंग कर सकें।

पहले व दूसरे चक्र के अभ्यर्थियों के लिए पंजीकरण व च्वाइस फिलिंग की अंतिम तिथि सोमवार को ही थी। इस संबंध में बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा की राज्य समन्वयक प्रोफेसर अमिता बाजपेयी ने बताया कि अभ्यर्थियों की समस्या को दृष्टिगत रखते हुए, उ.प्र. संयुक्त प्रवेश परीक्षा बी.एड. 2021-23 की काउंसलिंग के तृतीय चक्र (स्टेट रैंक 200001 से 350000 तक) एवं प्रथम काउंसलिंग के प्रथम व द्वितीय चक्र के छूटे हुए अभ्यर्थियों हेतु पंजीकरण व ‘च्वाइस-फिलिंग’ प्रक्रिया कर तिथि छह अक्टूबर तक विस्तारित की जा रही है।

उन्होंने कहा कि जिन अभ्यर्थियों को प्रथम काउंसलिंग के प्रथम व द्वितीय चक्र में सीट आवंटित हुई है और वे किन्हीं कारणों से अपना सीट कन्फर्मेशन शुल्क अब तक जमा नहीें कर पाये हैं। उनके लिये सीट कन्फर्मेशन शुल्क जमा करने की तिथि आठ अक्टूबर तक विस्तारित कर दी गयी है।

उन्होंने अभ्यर्थियों को परामर्श दिया कि वे ‘च्वाइस-फिलिंग’ प्रक्रिया में महाविद्यालय चयन के पूर्व वेबसाइट पर उपलब्ध महाविद्यालयों की सूची से अपनी पसंद के महाविद्यालयों के कोड नोट कर लें तथा उन्हें अपनी रूचि के क्रम में अधिकाधिक संख्या में भरें। इससे वे अपनी पसंद के बी.एड.महाविद्यालय में प्रवेश प्राप्त कर सकें।

अभ्यर्थियों को यह भी सूचित करना है कि वे अपने विकल्प सावधानी से भरें। एक बार विकल्प लॉक हो जाने पर उनमें किसी भी प्रकार का परिवर्तन संभव नहीं होगा। अभ्यर्थियों को यह भी परामर्श दिया जाता है कि वे अद्यतन सूचना हेतु लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाइट को नियमित रूप से देखते रहें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper