भारत ने कंबोडिया में ग्रामीण जलापूर्ति के लिए 1500 हैंडपंपों की स्थापना की

भारत ने कंबोडिया में ग्रामीण जलापूर्ति के लिए 1500 हैंडपंपों की स्थापना की

नई दिल्ली (शाश्वत तिवारी)। भारत द्वारा चलाई जा रही परियोजना ”कंबोडिया में ग्रामीण जलापूर्ति में वृद्धि के लिए 1500 हैंडपंप की आपूर्ति एवं स्थापना” का अंतिम चरण पूरा हो गया है। इसको लेकर सोमवार को एक आभासी कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसके तहत ये हैंडपंप कंबोडिया की जनता को सौंप दिया गया। इस समारोह की अध्यक्षता भारत के विदेश राज्य मंत्री राजकुमार रंजन सिंह और कंबोडियाई ग्रामीण विकास मंत्री डॉ औक राबुन ने की।

आभासी समारोह में भारत के विदेश राज्य मंत्री राजकुमार रंजन सिंह ने कंबोडिया की जनता को सौंपा हैंडपंप

भारत सरकार ने 100 प्रतिशत अनुदान के माध्यम से इस परियोजना को वित्तपोषित किया है। इस बारे में भारतीय विदेश मंत्रालय एक बयान जारी कर बताया है कि कंबोडिया के 2 प्रांतों, त्बौंग खमुम और बन्तेय मीनचे में 1500 हैंड पंपों की आपूर्ति और स्थापना की आवश्यकता थी। इस परियोजना से 433 गांवों की लगभग 4,00,000 की आबादी लाभान्वित हुई है। इससे स्वच्छ पेजयल के साथ-साथ जनसंख्या कवरेज में 27 प्रतिशत से 40 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

इस परियोजना से 433 गांवों की लगभग 4,00,000 की आबादी हुई लाभान्वित

बयान में मंत्रालय ने कहा कि यह परियोजना भारत और कंबोडिया के बीच मजबूत द्विपक्षीय विकास सहयोग का प्रतिबिंब है। क्षमता निर्माण के प्रयासों को जारी रखते हुए, अनुदानों और रियायती ऋणों के रूप में वित्तीय सहायता उपलब्ध कराकर भारत कंबोडिया के आर्थिक विकास में एक महत्वपूर्ण भागीदार बनने के लिए तत्पर है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper