किसान यूनियनों का भारत बंद, हमने कोई रास्ता सील नहीं किया हैः टिकैत

किसान यूनियनों का भारत बंद, हमने कोई रास्ता सील नहीं किया हैः टिकैत

नयी दिल्ली। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानून का विरोध कर रहे किसान संगठनों का भारत बंद अभियान सुबह 6:00 बजे शुरू हुआ, जिसके चलते कई जगह से यातायात में रुकावट की सूचना मिल रही है।

किसान संगठनों के भारत बंद के मद्देनजर उत्तर प्रदेश से दिल्ली में गाजीपुर बॉर्डर की ओर से प्रवेश करने वाला यातायात रोका गया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लाल किला क्षेत्र के आसपास चौकसी बढ़ा दी गई है और उधर जाने वाले कुछ रास्तों को बंद कर दिया गया है।

इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने एक बयान में कहा कि एंबुलेंस, डॉक्टर और आपातकालीन कारण से यात्रा करने वालों को गुजरने दिया जाएगा। हमने कोई रास्ता सील नहीं किया है। हम केवल एक संदेश देना चाहते हैं। हम दुकानदारों से अपील करते हैं कि वे अभी अपनी दुकानें बंद रखें और 4:00 बजे के बाद खोलें।

वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों के आंदोलन के समर्थन में ट्विटर पर लिखा किसानों का अहिंसक सत्याग्रह आज भी अखंड है, लेकिन शोषण- कार सरकार को यह नहीं पसंद है….।

गौरतलब है कि करीब 40 संगठनों के संयुक्त किसान मोर्चे ने सोमवार सुबह 6:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक देशभर में जगह-जगह धरने और प्रदर्शन का ऐलान किया है।

कांग्रेस और कुछ अन्य विपक्षी दलों ने किसानों के भारत बंद का समर्थन किया है। वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान से आंदोलन का रास्ता छोड़कर बातचीत से मुद्दे का समाधान निकालने की अपील की है।

किसानों के आज के विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर जगह- जगह यातायात बाधित होने की आशंका है। हरियाणा, उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली सहित कई अन्य राज्यों की पुलिस ने स्थिति से निपटने के लिए विशेष प्रबंध किए हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper