हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 73वां गणतंत्र दिवस, डीएम ने परेड की ली सलामी।

जयकिशन सैनी (ब्यूरो चीफ) समर इंडिया
बदायूँ। जनपद में 73वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास तथा धूमधाम से मनाया गया। पुलिस परेड ग्राउंड में मुख्य कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिलाधिकारी दीपा रंजन ने अपर जिलाधिकारी वित एवं राजस्व संतोष कुमार वैश्य, अपर जिलाधिकारी प्रशासन ऋतु पुनिया, सहित अन्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ कलेक्ट्रेट में झण्डा फहराकर तिरंगे को सलामी दी व राष्ट्रगान गाया गया। अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संविधान में उल्लिखित संकल्पो की शपथ दिलाई। कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने अपने विचार रखे। यहां कार्यक्रम का संचालन शायर हिलाल बदायूँनी ने किया। कलेक्ट्रेट स्थित शहीद पार्क पहुंचकर डीएम ने अन्य अधिकारियों के साथ पर शहीद स्थल पर पुष्प अर्पित किए।


तत्पश्चात पुलिस परेड ग्राउंड में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डीएम ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 ओ0पी0 सिंह के साथ झण्डा फहराया कर परेड की सलामी ली। भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व संपन्न समाजवादी पंथ निरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने का संकल्प लिया। जनपद न्यायाधीश जफीर अहमद सहित डीएम व एसएसपी ने पुलिस अधिकारियों को मेडल व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। यहां देशभक्ति से सम्बंधित बच्चों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम पेश किए गए। विभिन्न विद्यालयों द्वारा प्रस्तुत किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बच्चों को डीएम ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। डीएम व एसएसपी ने मतदान के महत्व को समझाते हुए सभी मतदाताओं से आगामी 14 फरवरी को मतदान करने की अपील की है।
उन्होंने कहा कि सभी मतदाता स्वयं को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंं ही, साथ ही अपने परिवार व पड़ोस के अन्य मतदाताओं को भी मतदान के लिए ले जाएं। लोकतंत्र के इस पर्व को पूरे उत्साह के साथ मनाया जाए। यहां मुख्य विकास अधिकारी ऋषिराज, एसपी सिटी प्रवीण सिंह चौहान, एसपी आरए सिद्धार्थ वर्मा सहित अन्य पूलिस अधिकारीगण मौजूद रहे। संचालन सर्वेन्द्र सिंह ने किया।
इसके बाद बदायूँ क्लब में भी डीएम ने झण्डा फहराया। लाडली हेंडमेड ज्वैलरी के अर्न्तगत स्मिता रस्तोगी द्वारा लगाई गई ज्वैलरी का डीएम ने अवलोकन कर उनकी सराहना की। यहां बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए, कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले बच्चों को डीएम ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया।


डीएम ने कहा कि विश्व का बड़ा लिखित संविधान हमारे देश भारत का है, जिसमें सभी धर्म के लोगों को एक सामान्य अधिकार प्राप्त है। देश की आजादी में दी गई कुर्बानियों को कभी भी भूलना नहीं चाहिए। देश को आगे बढ़ाने में सभी लोगों को मिलकर कार्य करना होगा। सभी लोग संकल्प लेकर कार्य करें तो सफलता अवश्य मिलेगी। उन्होंने कहा कि कर्तव्य पर ध्यान देकर अपनी-अपनी जिम्मेदारी सही ढंग से निर्वाह करके एक अच्छा जनपद बनाएं। उन्होंने कहा कि देश जब तक प्रगति नहीं करेगा, जब तक सब लोग मिलकर संविधान के बताए हुए मार्ग पर नहीं चलेंगे। देश के प्रत्येक नागरिक का दायित्व है। कि कानून का पालन करें, तभी देश में सुधार तथा प्रगति होगी।


एसएसपी ने कहा कि हमारे देश का संविधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित सम्बिधान है। गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस को मनाने के पीछे जो मूलभूत कारण है कि बड़ी कुर्बानियों और प्रयासों के बाद हमें स्वतंत्रता मिली है और हमे गणतंत्र प्राप्त हुआ है। इसे सभी को समझना चाहिए। यह बहुत बहूमूल्य है। इसको बनाए रखें। निरंतर देश को आगे बढ़ाएं, इसको महान बनाने के लिए लगातार प्रयास करते रहें। यहां बदायूँ क्लब बदायूँ के सचिव डॉ0 अक्षत अशेष सहित क्लब के अन्य सदस्यगण मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन रविन्द्र मोहन सक्सेना ने किया।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper