उत्तर प्रदेश

जिले में नोडल अधिकारी ने गोशालाओं में पहुंचकर किया स्थलीय निरीक्षण, गोवंशीय पशुओं को ईयरटैग लगाने के दिए निर्देश,

जिले में नोडल अधिकारी ने गोशालाओं में पहुंचकर किया स्थलीय निरीक्षण, गोवंशीय पशुओं को ईयरटैग लगाने के दिए निर्देश,

जयकिशन सैनी (समर इंडिया)

बदायूं। उत्तर प्रदेश शासन में विशेष सचिव चिकित्सा शिक्षा और नोडल अधिकारी अशोक कुमार ने तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन मंगलवार को विभिन्न विकास खंडों की गोशालाओं में पहुंचकर गोवंशो के लिए की गई व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण किया। रफियाबाद में गोवंशों के ईयर टैग न मिलने पर उन्होंने ईयरटैग लगाने के लिए निर्देशित किया।

नोडल अधिकारी ने विकासखंड सालारपुर के गांव रफियाबाद, रसूलपुर, जगत के गांव मझिया सोबरनपुर समेत ब्रहमदत्त गोशाला का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने गायों का पूजन कर गुड़ खिलाया। रफियाबाद में तीन सौ, रसूलपुर में 51 तथा ब्रहमदत्त गोशाला में 98 गोवंश स्वस्थ मिले। रफियाबाद में नोडल अधिकारी ने पाया कि 10 गोवंशों का इयरटैग नहीं है। उन्होंने उनको इयरटैग लगाने के लिए निर्देशित किया। गोशालाओं में उन्होंने विभिन्न पंजिकाओं का भी अवलोकन किया।

बृहद गोसंरक्षण केंद्र रफियाबाद में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा गोबर से बनाए जा रहे प्राकृतिक पेंट के कार्य को भी देखा। रसूलपुर में उन्होंने पाया कि गोशाला में चरागाह की भूमि संबद्ध है। यहां 50 गोवंशों के लिए पर्याप्त व्यवस्था है। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिए कि यहां 50 से बढ़ाकर सौ गोवंशों की व्यवस्था की जाए। मझिया सोबरन में उन्होंने निर्देश दिए कि गोशाला में चरागाह की भूमि संबद्ध की जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि कहीं भी छुट्टा गोवंश घूमते न मिले। निराश्रित गोवंशों को गोवंश आश्रय स्थल में रखा जाए।

कंट्रोल रूम का भी किया निरीक्षण:– गोवंश से संबंधित समस्याओं के लिए कलक्ट्रेट में जिला स्तरीय प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग यूनिट कंट्रोल रूम बनाया गया है। नोडल अधिकारी ने इसका भी निरीक्षण किया। यहां उन्होंने पाया कि कंट्रोल रूम के नंबर 7505389289 पर प्राप्त शिकायतों व समस्याओं को नोट कर निस्तारण के लिए संबंधित अधिकारियों को भेजा जा रहा है। उन्होंने कर्मचारियों से जाना कि किस प्रकार शिकायतों का निस्तारण किया जा रहा है। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी शिकायतों को तत्काल प्रभाव से निस्तारित कराया जाए। इस अवसर पर पीडी, डीआरडीए अनिल कुमार, डीडीओ रामसागर यादव, सीवीओ डॉ. निरंकार सिंह आदि मौजूद रहे

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × four =

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper