पति पर लगा योगा ट्रेनर पत्नी की हत्या का आरोप

पति पर लगा योगा ट्रेनर पत्नी की हत्या का आरोप

नई दिल्ली। मॉडल टाउन इलाके में 40 साल की महिला रवनीत कौर की हत्या का आरोप उनके ही पति पवनदीप सिंह साहनी पर है। रवनीत कौर एक योगा ट्रेनर थीं और काफी फिट थीं। दिल्ली पुलिस ने रवनीत के मायके वालों के आरोपों के साथ-साथ रवनीत कौर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट की फाइंडिंग के आधार पर इस मामले में न केवल दहेज प्रताड़ना की धारा 498a आईपीसी बल्कि हत्या की धारा 302 आईपीसी के तहत एफआईआर दर्ज की है। इस मामले में सबसे पहले रवनीत के पति पवनदीप सिंह साहनी को गिरफ्तार किया गया है।

रवनीत के परिजनों का आरोप है कि इस हत्या में सिर्फ पवनदीप सिंह ही शामिल नहीं है, बल्कि पवनदीप के घरवाले भी शामिल है और जब तक रवनीत का एक-एक हत्यारा पकड़ा नहीं जाता और उसे सजा नहीं मिल जाती, तब तक उनकी न्याय की लड़ाई जारी रहेगी। रवनीत कौर की 21 सितंबर को मौत हो गई। रवनीत और पवनदीप की शादी को आने वाले नवम्बर में 20 साल पूरे होने जा रहे थे लेकिन 21 सितम्बर को रवनीत की हत्या कर दी गयी और उसके आरोप में पवनदीप को गिरफ्तार किया गया।

रवनीत के भाई सुमित और जुड़वा बहन प्रीति का आरोप है कि रवनीत की हत्या बड़ी ही बेरहमी से की गई है। उसे बुरी तरह से पीटने के बाद उसका मुंह दबा कर उसे मौत के घाट उतारा गया। 21 सितम्बर की सुबह लगभग सवा पांच बजे उन्हें उनकी 12 साल की भांजी ने फोन कर बताया कि माँ की तबियत खराब हो गयी है, वो कुछ बोल नहीं रही हैं। सुमित अशोक विहार से मॉडल टाउन के लिए निकले और प्रीति अपने ससुराल से पति के साथ बहन के घर निकली। प्रीति अपनी बहन को मॉडल टाउन के ही एक बड़े प्राइवेट अस्पताल में ले गयीं। रवनीत बेसुध थीं। डॉक्टरों ने कुछ देर बाद रवनीत को मृत घोषित कर दिया।

सुमित और प्रीति का कहना है कि हमारी भांजी ने ये भी बताया कि मैं पापा को पिछले 1 डेढ़ घंटे से कह रही हूं कि मम्मी की तबीयत खराब है। उन्हें अस्पताल ले चलो, लेकिन उन्होंने मम्मी को अस्पताल ले जाने से मना कर दिया। दूसरा शक का बिंदु इसलिए सामने आया क्योंकि रवनीत के ससुराल वालों ने कहा कि उसे हार्ट अटैक आया है, जबकि ऐसा होना नामुमकिन है। क्योंकि रवनीत एक योगा ट्रेनर थी और वह घण्टों वर्कआउट भी करती थी। 20 तारीख की रात को भी वह सुमित के फिटनेस सेंटर वर्कआउट करके गई थी।

उन्होंने कहा कि हमें ये भी पता चला कि 20 तारीख की रात को रवनीत और पवनदीप के बीच झगड़ा भी हुआ था। हमने अपनी बहन के शव का पोस्टमार्टम कराने की सोची। हम पर सामाजिक दबाव बनाया गया कि रवनीत के शव का पोस्टमार्टम न कराया जाए। हमारे पिता भी इस सामाजिक दबाव के चलते शव का पोस्टमार्टम ना कराने के लिए कह रहे थे, लेकिन हमें पूरा पूरा यकीन था कि हमारी बहन की हत्या की गई है। हमने उसका पोस्टमार्टम करवाया और इस मामले की शिकायत पुलिस से की। जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो उसमें डॉक्टरों ने यह बात साफ की है कि हमारी बहन की हत्या की गई है। उसकी मौत मैनुअल स्ट्रगुलेशन से की गई है।

सुमित और प्रीति ने कहा कि हमें जो पुलिस अधिकारी ने बताया कि आपकी बहन का दम घोंटा गया है और उसे बुरी तरीके से पीटा भी गया है। हमारी शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और फिलहाल पवनदीप सिंह को गिरफ्तार किया गया है। लेकिन पवनदीप सिंह इस हत्या में अकेला नहीं है। इसमें उसके परिजन भी शामिल हैं। हमें न्याय चाहिए और जब तक हमारी बहन का एक एक हत्यारा गिरफ्तार नहीं हो जाता तब तक हमारी यह लड़ाई जारी रहेगी।

उन्होंने बताया कि पवनदीप सिंह शादी के बाद से ही हमारी बहन को परेशान करता था। मेरे पिता ने समय-समय पर पवनदीप सिंह की डिमांड पूरी की। उसे कई बार काफी रकम भी दी है, लेकिन समय के साथ-साथ उसका लालच बढ़ता गया और उसमें हमारी बहन की हत्या कर दी। अब हत्या के बाद वह हमारी बहन के प्रति गलत गलत बातें बोल रहे हैं। उसकी इज्जत खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी भी पवनदीप सिंह को बचाने में लगे हैं। हम अभी ऑन कैमरा उनका नाम नहीं ले रहे हैं, लेकिन वह इस पूरे मामले को गलत दिशा देकर भटकाने में लगे हैं ताकि पवनदीप सिंह व उसके परिजनों को बचा लिया जाए।

इस मामले में दिल्ली पुलिस का कहना है कि रवनीत कौर हत्याकांड मामले में जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार रवनीत कौर की हत्या मुंह दबाकर की गई है। पुलिस का दावा है कि अब तक की पूछताछ में पवनदीप सिंह ने ये खुलासा किया है कि रवनीत जब अपनी बेटी के साथ सो रही थी, तो वह गुस्से में उसके बेड पर गया और रवनीत का मुंह दबाकर उसकी हत्या कर दी।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि अब तक इस मामले में जितनी जांच और पूछताछ की गई है, उसमें एक बात सामने निकल कर आई है कि पवनदीप सिंह के मुकाबले रवनीत सिंह काफी फिट थी और गुड लुकिंग थी। इसी बात से पवनदीप सिंह हीन भावना से त्रस्त था और इसी हीन भावना की वजह से उसे रवनीत पर शक हो गया और इसी शक की वजह से उसने अपनी पत्नी की हत्या कर दी।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper