राधा किशन और प्यारे पिता जी फिल्म में नजर आएगी एक्ट्रेस सुलक्षणा पाटिल

समर इंडिया के लिए बॉलीबुड रिपोर्टर – गिरजाशंकर अग्रवाल की रिपोर्ट-

सुलक्षणा मराठी फिल्म की मशहूर अभिनेत्री हैं। सुलक्षणा कोल्हापुर की रहने वाली हैं। उन्हें कम उम्र से ही अभिनय और नृत्य का शौक था। वह बॉलीवुड एक्ट्रेस बनना चाहती थी। सुलक्षणा ने शिवाजी विश्वविद्यालय, कोल्हापुर से हिंदी में एमए (हिंदी) पूरा किया है, और कई YouTube समाचार चैनलों के लिए एक रिपोर्टर और एंकर के रूप में भी काम किया है।सुलक्षणा पाटिल एक उत्कृष्ट मॉडल और अभिनेत्री हैं। साथ ही वह एक अच्छी और भावुक इंसान हैं। सुलक्षणा की रुचि सामाजिक कार्यों में भी है। मरीजों के तनाव को दूर करने के लिए कोरोना काल में अस्पताल में डांस और एक्टिंग शो किए हैं।वह अस्पताल में sister के रूप में भी काम कर चुकी हैं। उन्होंने बेहद गरीब बच्चों को कंप्यूटर की शिक्षा दी है।सुलक्षणा ने कई मराठी धारावाहिकों जैसे तुझ्यात जीव रंगाला, जीव झाला येडापिसा, ‘प्रेमचा गेम सेम ते सेम’, ‘मन झालं बाजिंद’ और ‘सुंदरी’ सिरिअल मे छोटी क्यों न हो पर यादगार भूमिकाएँ निभाई हैं। मराठी फिल्मों में – G.R. फ़िल्म में उन्होंने प्रसिद्ध हिंदी, मराठी और दक्षिणी अभिनेता सयाजी शिंदे के शिक्षक की भूमिका निभाई।

सुपरस्टार अभिनेता स्वप्निल जोशी के साथ उनकी समांतर वेबसीरीज ने उनकी दुनिया बदल दी। इसमें उनका रोल छोटासा था, लेकिन जो उन्हें नहीं जानते थे, वे सुलक्षणा को पहचानने लगे। मोक्षांत वेबसीरीज में भी सुलक्षणा ने बड़ी भूमिका निभाई है।सुलक्षणा ने कई विज्ञापनों की शूटिंग की है। इसके अलावा उन्होंने कई शॉर्ट फिल्में भी की हैं,। सुलक्षणा कोल्हापुर जिले में कई नृत्य प्रतियोगिताओं की जज रह चुकी हैं। उन्होंने न केवल मराठी बल्कि हिंदी फिल्मों में भी अभिनय किया है। ‘कीप साइलेंस’ और ‘बिहेवियर’ फ़िल्म में उन्होंने रोल किया है। किप साइलेन्स यह फिल्म 9X prime ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो गयी हैं।वह डाइरेक्टर अजितकुमार लाल जी इनके हिंदी फिल्मों मे जैसे की ‘भूमिजा’, ‘प्यारे पिताजी’ और ‘राधा किशन’ में नजर आएंगी। वह हबाडा, पालवी इन मराठी फिल्मों में भी काम कर रही हैं। और कई हिंदी फिल्म मैं भी वो रोल के साथ असिस्टेंट डायरेक्टर का काम कर रही हैं।उन्हें बचपन से ही अभिनय में दिलचस्पी थी। और सुलक्षणा कई स्कूल-कॉलेज प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेती थी।सुलक्षणा हमेशा पहला नंबर लाती थी। लेकिन

वजूद वह एक साधारण जीवन जीना पसंद करती है। सुलक्षणा को “श्री साईं बाबा” में बहुत विश्वास और श्रद्धा है और वह हमेशा अपने माता और पिता के आशीर्वाद से आगे बढ़ती हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper