ऐसे हुआ एक्ट्रेस मॉडल सोनी रावत के जिंदगी का सफर

समर इंडिया के लिए गिरजाशंकर अग्रवाल की रिपोर्ट-

आज एक्ट्रेस मॉडल सोनी रावत ने बताया कि मेरे परिवार मैं दो बहन एक भाई है मां पिता जी का स्वर्गवास हो गया है भाई का कोई सपोर्ट नहीं है मैं अपनी बड़ी सिस्टर के साथ रहती हूं मेरी फैमिली में किसी का कोई सपोर्ट नहीं है सिस्टर का सपोर्ट है और साथ में डायरेक्टर शशि कपूर्ण कश्यप सर जी का पूरा सपोर्ट है शशि सर जी ने मुझे मेरे बुरे वक्त में मुझे हिम्मत और हौसला दिया फिल्म जगत में मैं ऐसा करना चाहती हूं कि जिससे मेरी पहचान बने और सम्मान मिले मेरे पिताजी कहते थे

कि मैं अपने जीवन में कुछ कर नहीं सकती वह मेरी शादी 13 साल की उम्र में करना चाहते थे जब मैं दसवीं कक्षा में पढ़ती थी भाई मारपीट करता था दिल्ली से मेरी स्टडी ड्रॉप करवा करके गांव में खेतों में काम करवाता था और प्रताड़ित करता था जब मैंने खेतों में काम करने से मना कर दिया तो मेरे सिर पर लोहे का औजार से वार कर दिया था मैं सिर से पैर तक लहूलुहान हो गई थी इतना सहन करने के बाद मैंने हिम्मत जुटाकर हार नहीं मानी आगे की पढ़ाई पूरी की सिस्टर के साथ रहकर मैं निरंतर प्रयास करती रही मैंने मॉडलिंग में फोटो शूट किया स्ट्रीट प्ले किया मेरा जुनून मेरी मेहनत और मेरी हिम्मत से मैंने काम किया मॉडलिंग में फोटोशूट स्ट्रीट प्ले करके मैंने अपनी पहचान बनाई जब मैं 11वीं में पढ़ रही थी तो मुझ में फिल्मी कीड़ा पनप गया था मैं निरंतर प्रयास करती रही तब जाकर आज मुझे फिल्म सटोरिया मैं काम करने का सुनहरा मौका मिला मुझे अच्छा काम मिला फिल्म सटोरिया में इस फिल्म के डायरेक्टर राइटर प्रोड्यूसर मिस्टर शशि कपूर्ण कश्यप सर जी हैं मुझे शशि सर जी ने अपनी फिल्म में काम करने का मौका दिया अपना सपोर्ट भी दिया मैंने अपना ऑडिशन दिया फिर शशि सर जी ने मुझे सेलेक्ट कर लिया मेरे मन में एक बात मेरे सांवले कलर को लेकर भयभीत करती रहती थी फिर मैंने बातों ही बातों में सर जी से कह दिया मेरा कलर सावला है मैं फिल्म में कैसे काम कर सकती हूं फिर सर जी ने हंसते हुए मेरी बात का खंडन किया और कहांं


जो रानी के पास है वह कानी के पास है।कई एक्ट्रेस इस फील्ड में सांवले कलर की है उन्होंने अपने टैलेंट के दम पर मुकाम बनाया सर जी ने समझाया परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस फील्ड में छोटा बड़ा काला गोरा कैसा भी व्यक्ति हो वह अपने टैलेंट से आगे बढ़ सकता है रंग रूप कोई मायने नहीं रखता तुम अपने आपको कानी समझ कर परेशान क्यों रहती हो तुम तो अपने टैलेंट के दम से दर्शकों के दिल की रानी बन सकती हो। साथ ही एक मीडिया दोस्त मिले नदीम अहमद जॉर्नलिस्ट जिन्होंने मेरी बहुत हेल्प की ।क्योंकि मीडिया वो चीज है जो इंसान को उठा दे और वो ही गिरा भी देती है में हमेशा से नदीम अहमद जॉर्नलिस्ट का सम्मान करती हूं ।मुझे सटोरिया मूवी में काम मिला मैं ईश्वर से यही कामना करती हूं कि मेरा काम अच्छा हो जिससे दर्शकों का प्यार दुलार आशीर्वाद मिले। हम सोनी रावत के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते है।

Related Articles

Back to top button