अकेली शिक्षामित्र के रहमों करम पर चल रहा है प्राथमिक विद्यालय मोहरका पट्टी

रिपोर्ट रोहित कुमार अमरोहा

अमरोहा। जनपद अमरोहा में बेसिक परिषदीय स्कूलों में शिक्षा का स्तर गिरता चला जा रहा है। जहां विद्यालय के कुछ शिक्षकों को ना ही किसी अधिकारी का खौफ है। और ना ही प्रशासन का डर। जहां जनपद के कुछ बेसिक परिषदीय स्कूलों में शिक्षक ड्यूटी के नाम पर खानापूर्ति करते नजर आ रहे हैं। जहां नन्हे-मुन्ने बच्चों के भविष्य पर पलीता लगाया जा रहा है।


आपको बता दे कि जनपद अमरोहा ब्लाक गजरौला क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय मोहरका पट्टी में अकेली शिक्षामित्र के रहमों करम पर चल रहा है। जब कि प्राथमिक विद्यालय मोहरका पट्टी में 5 शिक्षकों की तैनाती की गई है। विद्यालय मोहरका पट्टी में 170 बच्चों का नामांकन है। विद्यालय में अकेली शिक्षामित्र के रहमों करम से कार्य किया जा रहा है। अगर बात करें शिक्षकों की तो यहां पर शिक्षा का ड्यूटी के नाम पर खानापूर्ति करते नजर आ रहे हैं। और नन्हे मुन्ने बच्चे के भविष्य को दाव पर लगाने में कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

ग्रामीण लोगों ने शिक्षकों की लापरवाही की सूचना पत्रकार को दी। पत्रकार मौके पर पहुंचे। ग्रामीण लोगों ने विद्यालय में अनुपस्थित शिक्षकों की पोल खोल कर रख दी है। इस दौरान पत्रकार ने जब महिला शिक्षामित्र से पूछताछ की तो बताया कि शिक्षक सभी छुट्टी पर हैं। स्कूल में एक भी बच्चा नहीं था। इस मामले में जब गजरौला के खंड शिक्षा अधिकारी राकेश गौड़ से बात की तो उन्होंने बताया है कि विद्यालय में अनुपस्थित शिक्षकों का स्पष्टीकरण मांगा गया है जल्द ही उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी इसी के साथ खंड शिक्षा अधिकारी ने प्राथमिक विद्यालय कंकठेर से एक शिक्षक मोहरका पट्टी प्राथमिक विद्यालय में भेजा गया है।

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper