दिवाली पर मिट्टी के दिए बनाते प्रजापति का परिवार. पूर्वजों की परंपरा को अभी भी निभाते हैं

….

समर इडिया जिला संवाददाता कृष्णा जी बुलंदशहर

बुलंदशहर
जहांगीराबाद बुगरासी में प्रजापति समाज के लोग मिट्टी के दीप व बर्तन बनाते हुए ,बोले नहीं मिल रही पर्याप्त मिट्टी, महंगी मिट्टी मिलने से पढ़ रहा है कारोबार पर असर। नगर के प्रजापति समाज से सुरेश महिपाल दीपेंद्र सुनीता और बुगरासी के इमरत सुभाष प्रजापति आदि ने जानकारी देते हुए बताया कि महंगी मिट्टी खरीदने के कारण कारोबार पर है काफी असर। दीपावली पर धन लक्ष्मी को प्रसन्न करने मिट्टी के दीपक बनाने वाले कुम्हारों की चाक अब तेजी से चलने लगी है। पूरा परिवार मिट्टी के दीपक बनाने में लगा है। उन्हें इस बार अच्छी बिक्री की उम्मीद है। मोहल्ला जटियान में स्थित कुम्हारों की बस्ती में उनका परिवार मिट्टी का सामान तैयार करने में व्यस्त हैं। प्रजापति समाज के लोगों ने बताया कि मिट्टी के दीपक बनाने में बहुत मेहनत लगती है। रोजाना 100 से 200 दीपक ही बना पाते है पूरा परिवार बनाता है मिट्टी के दीपक व बर्तन अपने परिवार का गुजर बसर करता है।

उन्होंने बताया कि हमारे पूर्वज भी मिट्टी के बर्तन बनाते थे हम भी उसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुये बर्तन, दीपक बनाते हैं। वर्तमान में इन कुम्हारों के घरों में मिट्टी के दीपक, मटकी आदि बनाने माता-पिता के साथ उनके बच्चे भी हाथ बंटा रहे हैं। कोई मिट्टी गूंथने में लगा है तो किसी के हाथ चाक पर बर्तनों वे दीपक को आकार दे रहे ।बुगरासी के डा दयावती व सभासद औमदत्त लोधी ने बताया दीपावली पर सभी लोगों को मिटटी से बने दीपक ही जलाने चाहिए ऐसा करने से माता लक्ष्मी जी तो प्रसंन होती ही है; साथ में गरीब प्रजापति लोगों के घर भी इसी बहाने लक्ष्मी भी पहुंच जाती हैं । ध्यान रहे कच्ची् मिट्टी के दीपक शुभ माने जाते हैं उन्हीं को दीपावली पर जलाये मोमबत्ती नहीं

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper