2 दिन पूर्व शाम को मछली लेने निकले युवक का शव पुलिया के नीचे छत विक्षत अवस्था मिला।


मृतक दिव्यांग माता-पिता तथा परिवार का अकेला खेवनहार था।
मृतक कि 1 वर्ष पूर्व ही शादी हुई थी।
मृतक के तहेरे भाई ने अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है।

रिपोर्ट-एस.पी सैनी
सहसवान। थाना कोतवाली क्षेत्र के सीमावर्ती ग्राम नगला बरन में दो दिन पूर्व शाम को ग्राम में ही मछली खरीदने निकले युवक का शव खून से लथपथ संदिग्ध अवस्था में गांव से कुछ दूर पुलिया के नीचे पड़ा मिला। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक के शव को सील कर चिकित्सीय परीक्षण हेतु जिला चिकित्सालय भेजा है। वही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अपर पुलिस अधीक्षक देहात ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का मौका मुआयना करते हुए पुलिस क्षेत्राधिकारी को निर्देश दिए कि वह घटना का खुलासा कर अभियुक्तों को जेल भेजें। घटना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। वही नवविवाहिता पत्नी का रोते-रोते बुरा हाल है। घटना की जानकारी पल भर में पूरे क्षेत्र में फैल गई जहां सैकड़ों की तादाद में लोग मौके पर पहुंच गए तथा घटना पर आश्चर्य व्यक्त करने लगे घटना की मृतक के तहरे भाई ने थाना कोतवाली में अज्ञात लोगों के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई पुलिस मामले की जांच कर रही मृतक के दोनों माता-पिता दिव्यांग है। तथा मृतक ही अपने परिवार का एकमात्र खेवनहार था। जबकि एक भाई उत्तराखंड में मजदूरी कर अपनी गुजर-बसर कर रहा है l


थाना कोतवाली क्षेत्र की सीमा पर स्थित ग्राम नगला बरन निवासी रामप्रसाद पुत्र सोरन 26 वर्ष सोमवार की शाम 5 बजे के लगभग मछली खरीदने के उद्देश्य से अकेला ही अपने घर से ग्राम में मछली खरीदने गया था। जहां से वह जब शाम तक वापस नहीं आया तब परिजनों को चिंता हुई लोगों ने राम प्रसाद की इधर-उधर खोजबीन की परंतु उसका कहीं पता न चला। तब मजबूर होकर परिजनों ने थाना कोतवाली में प्रार्थना पत्र देकर सोमवार की शाम को घर से मछली खरीदने निकले राम प्रसाद की गुमशुदगी की सूचना थाना कोतवाली में दर्ज करा दी तथा राम प्रसाद को खोजने का अभियान जारी रखाl
बताया जाता है। ग्राम नगला बरन निवासी सुमेरी के लाई के खेत के पास पुलिया के नीचे गांव से कुछ दूरी पर रामप्रसाद के शव को लोगों ने देखकर शोर मचाना शुरू कर दिया रामप्रसाद का शव खून से लथपथ पड़ा था। गर्दन कटी पड़ी थी। होठ बुरी तरह कुचले हुए थे।


घटना की सूचना मिलते ही थाना कोतवाली पुलिस तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रभारी निरीक्षक तत्काल मौके पर पहुंच गए जब तक पुलिस पहुंची तब तक मृतक रामपसाद की शव की जानकारी क्षेत्र में आग की तरह फैल चुकी थी। भारी तादाद में ग्रामीणों का जमावड़ा लग गया। तथा मृतका की पत्नी मौके पर पहुंचकर दहाड़ मार कर रोने लगी तो वही मृतक के दिव्यांग पिता सोरन सिंह 60 वर्ष दिव्यांग माता 55 वर्ष एक कोने में बैठकर सिसक-सिसक कर रोने लगे। पुलिस ने मृतक के शव को सील करके चिकित्सीय परीक्षण हेतु जिला चिकित्सालय भेजा है।
घटना की जानकारी जैसी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर ओ.पी सिंह अपर पुलिस अधीक्षक देहात सिद्धार्थ वर्मा को मिली तो वह तत्काल मौके पर पहुंच गए तथा घटनास्थल का मौका मुआयना करते हुए मृतका की नवविवाहिता सुनीता को सांत्वना देते हुए अभियुक्तों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। वहीं
पुलिस क्षेत्राधिकारी को परिवार की सुरक्षा का बंदोबस्त करने के साथ ही घटना का शीघ्र से शीघ्र पर्दाफाश कर असली अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजने के निर्देश दिएl


इधर मृतक रामप्रसाद की 1 वर्ष पूर्व ग्राम सोई थाना कोतवाली बदायूं निवासिनी सुनीता के साथ शादी हुई थी। मृतक के दोनों माता पिता दिव्यांग है।तथा परिवार की पूरी जिम्मेदारी का बोझ रामप्रसाद के ऊपर था। रामप्रसाद मजदूरी करके अपना तथा अपने माता-पिता का जीवन यापन चला रहा था। वही मृतक का एक भाई गुरुदेव उत्तराखंड में मेहनत मजदूरी करके अपनी गुजर-बसर कर रहा है ग्रामीणों के अनुसार मृतक रामप्रसाद सीधा-साधा स्वभाव का था। उसका किसी से कोई विवाद नहीं था। परंतु उसकी बेरहमी से हत्या करने वाला कौन था। यह प्रश्न क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। तो वहीं थाना कोतवाली पुलिस को भी हत्यारों तक पहुंचने में एड़ी चोटी का जोर लगाना होगा l
प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया मृतक के तहेरे भाई बुद्धपाल की तहरीर पर अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।तथा पुलिस मामले की जांच कर रही है। शीघ्र से शीघ्र घटना का खुलासा करते हुए असली अभियुक्तों को जेल भेजा जाएगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper