जोशीमठ में किए जा रहे राहत कार्यों को लेकर सीएम धामी ने की समीक्षा बैठक

Photo of author

By Shabab Aalam

जोशीमठ में किए जा रहे राहत कार्यों को लेकर सीएम धामी ने की समीक्षा बैठक

Shabab Aalam

जैसा की सभी को मालूम हो गया है कि इस समय जोशीमठ के हालात बेहद ख़राब है वहीँ दूसरी और सरकार भी अपनी पूरी कोशिश में लगी हुई है किसी तरह से लोगो की मदद की जाए और हो भी रही है वहीँ इसी बीच जोशीमठ में तात्कालिक राहत शिविरों की व्यवस्था, प्री फेब्रीकेटेड ट्रांजिट शेल्टर, स्थायी पुनर्वास, नए स्थानों का विकास, आवास निर्माण, संपूर्ण जल निकासी व्यवस्था, शहर में सीवर लाइन की व्यवस्था सभी घरों को सीवर लाइन जोड़ने के कार्य होने हैं।

इतना ही नहीं इन सभी के लिए सीएम धामी ने केंद्रीय गृह मंत्री से सहायता का अनुरोध किया है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने बाढ़ प्रभावित जोशीमठ में किए जा रहे राहत कार्यों की अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। अभी तक क्षेत्र का 25 प्रतिशत भू-भाग, भू-धंसाव से प्रभावित है, जिसकी अनुमानित जनसंख्या 25000 है।

इतना ही नहीं पालिका क्षेत्र में दर्ज भवन लगभग 4500 हैं। उसमें से 849 भवनों में चौड़ी दरारें मिल चुकी हैं। अस्थायी रूप से विस्थापित परिवार 250 हैं। सर्वे गतिमान है एवं उक्त प्रभावित परिवार तथा भवन निरंतर बढ़ रहे हैं। आज गुरुवार को हो रही इस बैठक से पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह नई दिल्ली में जोशीमठ में भू धंसाव से उत्पन्न हालात की विस्तृत जानकारी दी थी।

आपको बताते चले कि शाह ने प्रभावितों की आवश्यक मदद का आश्वासन दिया जोशीमठ में तात्कालिक राहत शिविरों की व्यवस्था, प्री फेब्रीकेटेड ट्रांजिट शेल्टर, स्थायी पुनर्वास, नए स्थानों का विकास, आवास निर्माण, मूल सुविधाएं, मसलन स्कूल, कॉलेज, ड्रेनेज, सीवरेज, जोशीमठ का पुनर्निर्माण, विस्तृतक तकनीकी जांच, भूस्खलन की रोकथाम, संपूर्ण जल निकासी व्यवस्था, शहर में सीवर लाइन की व्यवस्था सभी घरों को सीवर लाइन जोड़ने के कार्य होने हैं। इतना ही नहीं आपको बतादें कि इन सभी सुविधाओं के विकास के लिए मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृह मंत्री सहायता का अनुरोध किया।

Leave a comment