दबंग टीचर-स्पष्टीकरण मांगा तो बीईओ से भिड़ गया शिक्षक, गाली-गलौज और मारपीट

स्पष्टीकरण मांगा तो बीईओ से भिड़ गया शिक्षक, गाली-गलौज और मारपीट

जयकिशन सैनी
समर इंडिया (बदायूँ)
बदायूँ। दातागंज ब्लॉक समरेर के प्राथमिक विद्यालय नगरिया खुर्द के निरीक्षण में खामियां मिलने पर इंचार्ज प्रधानाध्यापक से स्पष्टीकरण मांगना बीईओ को भारी पड़ गया। इंचार्ज प्रधानाध्यापक ने स्पष्टीकरण तो नहीं दिया, लेकिन बीईओ के कार्यालय पहुंच कर उनको हड़काने के साथ गालियां दीं और विरोध करने पर मारपीट कर दी। बीएसए के निर्देश पर बीईओ ने रिपोर्ट दर्ज कराने को तहरीर दी है। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

 

 

समरेर ब्लॉक के नगरिया खुर्द प्राथमिक विधालय का करीब सप्ताह भर पहले बीईओ भूपेंद्र सिंह ने निरीक्षण किया था। स्थलीय निरीक्षण में उनको तमाम खामियां मिलीं, इस पर बीईओ ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक रामपाल को नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण तलब कर लिया। रामपाल ने नोटिस का तो कोई जवाब नहीं दिया, लेकिन बृहस्पतिवार दोपहर वह समरेर ब्लॉक मुख्यालय स्थित बीईओ के कार्यालय पहुंच गया। आरोप है कि रामपाल ने बीईओ को हड़काते हुए कहा कि बीस साल की नौकरी में अब तक किसी की उससे स्पष्टीकरण मांगने की हिम्मत नहीं हुई। इस पर बीईओ ने उसको कार्रवाई की चेतावनी दी। कार्रवाई की चेतावनी पर शिक्षक का पारा चढ़ गया उसने गाला-गलौज करते हुए बीईओ से हाथापाई और मारपीट कर दी।

 

 

हंगामा होने पर कार्यालय के अन्य लोगों और यहां मौजूद शिक्षकों ने बीच-बचाव किया। बीईओ भूपेंद्र सिंह ने सूचना मोबाइल पर कॉल करके बीएसए डॉ. महेंद्र प्रताप सिंह को दी तो वह भी मौके पर पहुंच गए। बीएसए ने पूरे प्रकरण में सीओ प्रेम कुमार थाना को सूचना दी। इसके बाद पुलिस भी मौके पर आ गई, लेकिन तब तक शिक्षक रामपाल वहां से जा चुका था। बीएसए के निर्देश पर बीईओ ने शिक्षक रामपाल के खिलाफ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करने, धमकी देने, मारपीट करने और सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। पुलिस मामले में जांच कर रही है।


 

 

बीईओ और शिक्षक के बीच हुए विवाद के संबंध में तहरीर आई है। मामले में जांच की जा रही है। जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।
-प्रेम कुमार थापा, सीओ दातागंज

 

 

 

—————
प्राथमिक विधालय नागरिया खुर्द का मामला मेरी जानकारी में है। इसमें जांच कर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
-डॉ. महेंद्र प्रताप सिंह, बीएसए

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper