रामप्रसाद की हत्या के मामले में संदेह के आधार पर हिरासत में लिए गए एक युवक ने दीवार में सर मारकर अपने को किया लहूलुहान|

(राम प्रसाद की ह्त्या का मामला)
रामप्रसाद की हत्या के मामले में संदेह के आधार पर हिरासत में लिए गए एक युवक ने दीवार में सर मारकर अपने को किया लहूलुहान|
गंभीर रूप से घायल को तड़के सुबह भेजा गया सीएससी, हालत गंभीर होने पर जिला चिकित्सालय से राजकीय मेडिकल कॉलेज में कराया गया भर्ती|
पुलिस अभिरक्षा में चल रहा है| घायल का उपचार

रिपोर्ट- एस.पी सैनी
सहसवान| थाना कोतवाली पुलिस द्धारा क्षेत्र के ग्राम नगला बरन के जंगल में मछली लेने गए युवक की 2 दिन बाद संदिग्ध परिस्थितियों में क्षत-विक्षत अवस्था में पुलिया के नीचे मिली लाश मामले में हिरासत में लिए गए 4 संदिग्ध लोगों में एक युवक ने थाना कोतवाली हवालात की दीवार में सर मारकर अपने को गंभीर रूप से घायल कर लिया| उपरोक्त युवक को तत्काल तड़के सुबह सीएचसी सहसवान भेजा गया| जहां हालत गंभीर होने पर जिला चिकित्सालय भेज दिया गया| मामला नाजुक होने पर राजकीय मेडीकल कॉलेज उपरोक्त युवक को उपचार वास्ते भर्ती कराया गया है| कड़ी चौकसी में उपरोक्त युवक का उपचार चल रहा है| पुलिस सूत्रों के मुताबिक गंभीर रूप से घायल हुए युवक को खतरे से बाहर बताया हैl


ज्ञात रहे थाना कोतवाली क्षेत्र की सीमा पर स्थित ग्राम नगला बरन निवासी रामप्रसाद सोमवार को शाम 5:30 बजे के लगभग मछली खरीदने की बात कह कर घर से चला गया था| जहां वह शाम को घर वापस न होने पर परिजनों ने कई स्थानों पर तलाश किया| परंतु वह नहीं मिला बुधवार को सुबह गांव जरीफ गढ़िया से नगला बरन गांव के जाने वाले रास्ते पर पुलिया के नीचे लाई के खेत में राम प्रसाद कश्यप शव छत विक्षत अवस्था में पड़ा मिला| उसके गले तथा होठों पर धारदार हथियारों के चोटों के निशान थे पेंट उसकी घुटनों से नीचे तक उतरी हुई थी|


पुलिस ने मृतक के शव को सील करके पोस्टमार्टम हेतु भेजा था| जहां पोस्टमार्टम के उपरांत परिजनों ने उसका दाह संस्कार कर दिया|
पुलिस ने घटनास्थल के पास ही झोपड़ी को भी सील कर दिया| जहां काली पन्नी तथा भारी मात्रा में खून के छींटे पड़े थे| मृतक के तहेरे भाई ने घटना की अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है l घटनास्थल का वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक तथा अपर पुलिस अधीक्षक देहात द्धारा दौरा करने के उपरांत अधीनस्थों को मृतक के हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार करने के निर्देश दिएl
पुलिस ने रामपसाद की हत्या के मामले में मृतक के तहेरे भाई द्धारा अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध लिखाई गई रिपोर्ट के उपरांत थाना कोतवाली पुलिस ने शक के आधार पर ग्राम मोहन नगला तथा जामिनी के ग्रामों से दो-दो कुल 4 लोगों को बीती शाम 8 बजे के लगभग हिरासत में ले लियाl
बताया जाता है| कि हिरासत में लिए गए चारों अभियुक्तों पुलिस ने देर रात घटना से संबंधित जानकारी हासिल करना प्रारंभ कर दी| इसी बीच ग्राम जामिनी निवासी शक के आधार पर हिरासत में लिए गए वीरेंद्र पुत्र रामस्वरूप 36 वर्ष हवालात की दीवार में सर मारकर अपने को लहूलुहान कर लिया|


पुलिस रात्रि 3:20 पर सीएचसी सहसवान वीरेंद्र को ले गई जहां गंभीर हालत होने पर प्रथम स्वास्थ्य चिकित्सा देकर चिकित्सक ने जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया|परंतु वीरेंद्र की हालत नाजुक देखकर जिला चिकित्सालय में राजकीय मेडिकल कॉलेज के लिए वीरेंद्र को रेफर कर दिया| जहां पुलिस सुरक्षा में उसका उपचार किया जा रहा हैl
प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार शुक्ला से वीरेंद्र के मामले को लेकर जब जानकारी हासिल की गई तो उन्होंने बताया की रामप्रसाद की हत्या के मामले में 4 लोगों को हिरासत में लिया गया था| जिसमें धीरेंद्र भी था| वीरेंद्र से पूछताछ भी नहीं हो पाई थी| कि उसने अपना दीवार में सर मारकर अपने को घायल कर लिया| जिसे रात में ही उपचार वास्ते सीएचसी सहसवान से रेफर कराकर जिला चिकित्सालय भेजा गया| तत्पश्चात राजकीय मेडिकल कॉलेज बदायूं में उसका उपचार कराया जा रहा है| फिलहाल प्रभारी निरीक्षक ने वीरेंद्र के सिर में लगी चोट को खतरे से बाहर बताया है|
प्रभारी निरीक्षक ने बताया की वीरेंद्र के राम प्रसाद की हत्या के मामले में कई सबूत हाथ लगे हैं| जिसकी पूछताछ के लिए उसे बुलाया गया था| परंतु उसने पुलिस से मामले से बचने के लिए षड्यंत्र रचा है| जिसके स्वस्थ होने पर वीरेन्द्र से रामप्रसाद की हत्या के मामले में जांच की जाएगीl

Related Articles

Back to top button
E-Paper