केन्द्रीय मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने उर्वरकों की कमी से जुड़ी अफवाहों का जोरदार खंडन किया



सभी किसानों से उर्वरकों की जमाखोरी न करने का आग्रह किया

कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कारवाई का वादा किया

samar india Delhi by aman kumar siddhu

केन्द्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने देश में उर्वरकों की कमी से जुड़ी अफवाहों का आज जोरदार खंडन किया।

उर्वरकों की कमी के दावों की साफ शब्दों में निंदा करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने नवंबर महीने के लिए उर्वरकों के उत्पादन लक्ष्यों की अधिकारियों के साथ समीक्षा की है। उन्होंने कहा कि नवंबर महीने में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा की गई मांग से अधिक उत्पादन होगा। यूरिया की मांग जहां 41 लाख मीट्रिक टन है, वहीं इसका उत्पादन 76 लाख मीट्रिक टन किया जाएगा। इसी तरह डीएपी की 17 लाख मीट्रिक टन की अनुमानित मांग के मुकाबले 18 लाख मीट्रिक टन डीएपी का उत्पादन किया जाएगा। एनपीके की आपूर्ति 30 लाख मीट्रिक टन के आसपास रहेगी जो 15 लाख मीट्रिक टन की मांग से कहीं ज्यादा है।

केंद्रीय मंत्री ने सभी किसानों से आग्रह किया कि वे रासायनिक उर्वरकों की जमाखोरी न करें। उन्होंने अफवाह फैलाने वालों पर ध्यान न देने का अनुरोध भी किया। उन्होंने आगाह किया कि उर्वरकों की कमी की अफवाह फैलाकर खाद की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार देश में उर्वरकों के उत्पादन और इनकी आपूर्ति की लगातार निगरानी कर रही है और किसानों को पर्याप्त मात्रा में उर्वरक उपलब्ध रहे, यह सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper