उत्तर प्रदेश

आखिर क्यूं नही हो रही दबंग कोटेदार के विरूद्ध कार्यवाई, कही पूर्ति विभाग की मिलीभगत से तो नही हो रहा ये खेल,

कोटेदार पर अभ्रद्ध व्यवहार व घटतौली जैसे कई गंभीर आरोप भी लगे है।ग्रामिणों द्धारा लगाए गए है।

आखिर क्यूं नही हो रही दबंग कोटेदार के विरूद्ध कार्यवाई, कही पूर्ति विभाग की मिलीभगत से तो नही हो रहा ये खेल,

कोटेदार पर अभ्रद्ध व्यवहार व घटतौली जैसे कई गंभीर आरोप भी लगे है।ग्रामिणों द्धारा लगाए गए है।
ग्रामिण डीएम से लेकर सीएम तक दे चुके शिकायती पत्र कार्यवाई के नाम पर सिर्फ हो रही खानापूर्ति
जयकिशन सैनी (समर इंडिया)

बदायूं। तहसील दातागंज ब्लॉक म्याऊं के गांव म्यारी के ग्रामीणों ने गांव के कोटेदार पर घटतोली,राशन वितरण न करने व कार्डधारकों से अभ्रदता तथा राशन कार्डों में फर्जी आधार लगाकर राशन निकालने का  गंभीर आरोप लगाते हुए डीएम से लेकर सीएम तक शिकायती  पत्र भेज चुके हैं। एक दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों ने फिर डीएम को पत्र सौंपकर कोटेदार की जांच कराकर कार्रवाई की मांग की है। डीएम को सौंपे पत्र में ग्रामीणों ने कहा है कि गांव का कोटेदार नंदराम पुत्र राममूर्ति तेली द्धारा जून व जुलाई से कार्ड धारकों को राशन का वितरण नहीं किया गया है और जिनकों दे रहा है उन्हें राशन तोल में कम दिया जा रहा है।ग्रामीणों का कहना है कि कोटेदार के तराजू की जांच होनी चाहिए।

कोटेदार द्धारा राशन का वितरण सिर्फ उन्हीं को किया जाता है जो कोटेदार के नजदीकी हैं। आरोप है कि पूर्व में भी कोटेदार द्धारा तेल,नमक व चना का वितरण बिल्कुल नहीं किया गया था और जो राशन वितरण किया जाता है। उसमें घटतौली की जाती है। ग्रामीणों का कहना है कि कोटेदार द्धारा कार्ड धारकों के पाश मशीन में जबरन अंगूठे लगवा लिए जाते हैं। आरोप है कि ग्रामीणों ने जब कोटेदार से पूंछा कि कार्ड धारकों को पूरा राशन क्यों नहीं दिया जा रहा है तो कोटेदार ने ग्रामीणों से अभ्रदता करते हुए जान से मारने की धमकी दी। कोटेदार व पूर्ति विभाग दातागंज की मिलीभगत से यह खेल चल रहा है।ग्रामीणों ने डीएम से कोटेदार के कारनामों की जांच कराकर कार्रवाई की मांग की।

ग्रामीणों का कहना है कि पूर्ति निरीक्षक अधिकारी कार्यबाई के नाम पर खानापूर्ति कर रहे है। इस मौके पर धीरपाल,ध्यानपाल तेली,कल्लू मौर्य ,प्रतिपाल, गिरीश, सुनील कुमार, बिजनेश कुमार, कमलेश, रामा देवी,पूजा, मधु,सरनाम,, प्रताप सिंह, मदनपाल,संजीव कुमार राठौर समेत दर्जनों ग्रामीण मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + five =

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper