कंधार मस्जिद में आत्मघाती धमाके में मरने वालों की संख्या 62 हुई

काबुल। अफगानिस्तान के कंधार में नमाज के दौरान हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या बढ़कर 62 हो गई है। यह हमला शुक्रवार को कंधार की शिया मस्जिद में नमाज पढ़ रहे लोगों पर हुआ जिसमें 62 की मौत हो गई है और 68 घायल हो गए। घटना की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है। हमले का शक आतंकी संगठन आईएस-खुरासान पर है। इससे पहले पिछले शुक्रवार को ही आईएस -खुरासान ने कुंदूज की शिया मस्जिद में 80 से ज्यादा नमाजियों की हत्या की जिम्मेदारी ली थी।

जानकारी के मुताबिक आत्मघाती हमलावर ने नमाजियों के बीच आकर खुद को उड़ाया। विस्फोट के बाद इमाम बरगाह मस्जिद के भीतर के जो फोटो और वीडियो इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट किए गए हैं वे विचलित करने वाले हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक विस्फोट के बाद जमीन और दीवारें खून से रंग गईं, शरीर का मांस टुकड़ों में तब्दील होकर जहां-तहां बिखर गया। विस्फोट से पैदा हुए धुएं से उस हाल की दीवारें काफी ऊंचाई तक धुएं से काली हो गईं, जहां नमाज अदा की जा रही थी। पूरे मस्जिद परिसर में बारूद की गंध विस्फोट के घंटों बाद बनी हुई थी। अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज तालिबान के विशेष बल मौके पर पहुंच गए हैं और उन्होंने इलाके को घेरकर लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है।

तालिबान और आइएस सुन्नी मुसलमानों के अतिवादी संगठन हैं। शिया आबादी के सबसे बड़े देश ईरान ने इन हमलों की कड़े शब्दों में निंदा की है। काबुल स्थित ईरानी दूतावास ने आतंकी हमले रोकने के लिए कड़े बंदोबस्त करने के लिए तालिबान से अपेक्षा की है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper