समर इंडिया । SAMAR INDIA

भाजपा नगर अध्यक्ष कोच ने केंद्रीय राज्य मंत्री से नई दिल्ली में भेंटकर रेलवे आरक्षण केंद्र कोच का शुभारंभ

by AMAN KUMAR SIDDHU
0 comment

भाजपा नगर अध्यक्ष कोच ने केंद्रीय राज्य मंत्री से नई दिल्ली में भेंटकर रेलवे आरक्षण केंद्र कोच का शुभारंभ एवं एट कोच शटल ट्रेन को संचालित की जाने की मांग की।

समर इंडिया के लिए गिरजा शंकर अग्रवाल की रिपोर्ट-

आज भाजपा नगर अध्यक्ष कोच सुनील लोहिया ने क्षेत्रीय सांसद केंद्रीय राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा से नई दिल्ली में भेंटकर ज्ञापन सौंपकर विगत15 माह से बंद कोच रेलवे आरक्षण केंद्र को पुनः अति शीघ्र शुभारंभ किए जाने एवं एट कोच शटल ट्रेन को पुनः अविलंब चलाए जाने की मांग की ।भाजपा नगर अध्यक्ष कोच सुनील लोहिया द्वारा उद्योग मंत्रालय स्थित ऑफिस में आज क्षेत्रीय सांसद केंद्रीय राज्यमंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा को सौंपेगये 3 सूत्रीय ज्ञापन में कहा गया है कि कोविड-19 में संचालित ट्रेनों में बिना आरक्षण की यात्रा नहीं की जा सकती है कोरोना के कारण विगत 15 माह से बंद कोच रेलवे आरक्षण केंद्र के बंद रहने से कोच के लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है रेलवे आरक्षण केंद्र को पुनः अविलंब शुभारंभ किया जाए तथा एट कोच शटल ट्रेन के बंद रहने से कोच से झांसी कानपुर की ओर को जाने वाले यात्रियों को भारी परेशानी हो रही है एट कोच शटल ट्रेन को अति शीघ्र पुनः संचालित किया जाए तथा झांसी कानपुर रेल पथ पर संचालित ग्वालियर बरौनी मेल, साबरमती एक्सप्रेस एवं कुशीनगर एक्सप्रेस के एट जंक्शन पर कोरोना के कारण रेलवे द्वारा स्थगित किए गए ठहराव से कोच एट क्षेत्र के लाखों नागरिकों को दैनिक सैकड़ों यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है अतः यात्री हित में बरौनी ग्वालियर मेल, साबरमती एक्सप्रेस एवं कुशीनगर एक्सप्रेस ट्रेनों का एट जंक्शन पर पुनः स्टॉपेज शुभारंभ किए जाने की प्रभावी मांग की। क्षेत्रीय सांसद केंद्रीय राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने रेल मंत्री को प्रभावी पत्र लिखकर बरौनी ग्वालियर मेल ,साबरमती एक्सप्रेस एवं कुशीनगर एक्सप्रेस का एट जंक्शन पर पुनः ठहराव किए जाने एवं रेल प्रशासन से तत्काल फोन पर प्रभावी वार्ता करते हुए रेलवे आरक्षण केंद्र कोच का अति शीघ्र शुभारंभ तथा एट कोच शटल ट्रेन को अविलंब संचालित किए जाने हेतु प्रभावी कार्यवाही अमल में लाए जाने वात कही ।

0 comment

You may also like

Leave a Comment