समर इंडिया । SAMAR INDIA

कोंच फ़िल्म फेस्टिवल में लोकगीतों की हुई प्रस्तुति,भाभी जी घर पर है तिवारी जी की बेटी गीति ने साझा किया अनुभव

by AMAN KUMAR SIDDHU
0 comment

समर इंडिया के लिए गिरजा शंकर अग्रवाल की रिपोर्ट –

कोंच इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में बुंदेली लोक गीतों की शानदार प्रस्तुतियां हुई। लोक संस्कृति विशेषज्ञ विनोद मिश्र सुरमणि ने बुंदेली संस्कृति पर प्रकाश डालते हुए लोकगीतों का गायन किया।हर शाख पर उल्लू बैठा है, जीजा जी छत पर है,हप्पू की उलटन पलटन, शक्ति जैसे प्रसिद्ध सीरियलों में अभिनय कर चुके टीवी एवं फ़िल्म अभिनेता अभिषेक अग्रवाल ने सिनेमा से जुड़ी जरूरी बातें बताई। वहीं उतर प्रदेश सरकार द्वारा नई शिक्षा नीति के तहत स्नातक के पाठ्यक्रम में बदलाव के लिए गठित समिति के अध्यक्ष एवं बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ०पुनीत विसारिया एवं इलाहाबाद हाईकोर्ट लखनऊ बेंच के रजिस्ट्रार, वरिष्ठ कथाकार महेंद्र भीष्म ने फेस्टिवल को सम्बोधित किया।


भाभी जी घर पर है सीरियल में तिवारी जी का किरदार निभाने वाले रोहिताश गौड़ की बेटी उभरती हुई अभिनेत्री गीति गौड़ ने अपने अनुभवों को साझा किए।फेस्टिवल में बिहार प्रान्त के कवियों द्वारा भी अपनी अपनी रचनाओं से समां बांधा गया। कवियत्री डॉ० मीना कुमारी परिहार ने सरस्वती वंदना करते हुए पढ़ा कि हे माँ मुझे आज यह वर दे ,हे माँ मुझे आज तू तर दे भारत के लाल आज झूम झूम गाओ रे। कवियत्री प्राची तिवारी ने पढ़ा कि आंखों में आंसू देखे हैं मैंने,हस्ते हुए लोगो को गम छुपाते देखा है मैंने। गैरो का अपनापन देखा है मैंने, अपनों की जलन और भेदभाव देखा है मैंने। फेस्टिवल में कवि सम्मेलन के आयोजन का दायित्व सम्भाले भास्कर सिंह माणिक ने पढ़ा कि मानव हो मानवता का मान करो। अपनी संस्कृति का उत्थान करो। तुम्हें जीवन का कर्ज चुकाना है। माटी के कण कण का सम्मान करो। संचालन करते हुये कहा कि वन्दे मातरम वन्दे मातरम् वन्दे मातरम् की हुंकार। धरा गगन में छा जाये भारत माता की जय जयकार। इस अवसर पर रेखा शर्मा, श्री राम राय, प्रकाश कुमार, श्री मती सोनिया प्रतिभा तानी, कमलेश कुमार गुप्ता आदि ने रचना पाठ किया।

0 comment

You may also like

Leave a Comment