समर इंडिया । SAMAR INDIA

ग्रामीणों ने सरकारी भूमि पर बने पूर्व प्रधान तथा उसके चचेरे देवर के पक्के मकानों को ध्वस्त कराने के लिए मुख्यमंत्री को प्रेषित किया पत्र|

by Jay Kishan Saini
0 comment

उपरोक्त अबैध भूमि पर ग्राम प्रधान व लेखपाल अवैध कब्जा धारकों मदद करने में जुटे|

सहसवान| तहसील क्षेत्र के ग्राम दरियापुर के ग्रामीणों ने सरकारी  भूमि पर बने पूर्व प्रधान तथा उसके चचेरे देवर के पक्के मकानों को ध्वस्त कराते हुए हल्का लेखपाल के विरुद्ध कार्रवाई किए जाने की मांग प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को प्रेषित पत्र में की है |

मुख्यमंत्री को प्रेषित पत्र में ग्राम दरियापुर के ग्रामीणों ने बताया की भूमि गाटा नंबर 179  खलिहान व 178 खाद के गड्ढे के नाम सरकारी भूमि दर्ज है| जिस पर हल्का लेखपाल तथा दरियापुर के पूर्व प्रधान व उसके चचेरे देवर ने अवैध रूप से ग्राम पंचायत की सरकारी संपत्ति को हड़पते हुए अपने आवास पक्के मकान बना लिए हैं| ।यही नहीं भूमि नंबर 248 खलियान की भूमि स्थित ग्राम दरियापुर और भूमि नंबर 249 भूमि खाद के गड्ढों पर कब्जा नाजायज ग्रुप से सूरजपाल पुत्र कल्याण ,गंगा सिंह पुत्र सरदार ,उरमान सिंह पुत्र थान सिंह ,चंद्रपाल पुत्र मैकू, उदय वीर पुत्र राम सिंह आदि लोगों ने पक्के मकान बना कर दो मंजिल इमारत तैयार कर रहे हैं| जिसमे ग्राम प्रधान व लेखपाल अवैध कब्जा धारकों की मदद कर रहे हैं| ।जिसकी शिकायत पूर्व में भी कई बार की जा चुकी है| लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया इससे पूर्व शिकायत में तहसील दिवस व अन्य प्रकार के माध्यमों से भी की जा चुकी हैं| परंतु सरकारी संपत्ति पर अवैध रूप से कब्जा करने वाले लोगों के विरुद्ध तहसील प्रशासन के अधिकारी कर्मचारियों ने कोई कार्रवाई नहीं की जिसके कारण उनके हौसले बुलंद हैं।ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से ग्राम दरियापुर की स्थलीय स्थिति का जिला स्तरीय अधिकारियों  से जांच कराते हुए अवैध कब्जे धारियों के मकानों को ध्वस्त करा कर भूमि को  ग्राम सभा की संपत्ति को ग्राम सभा में  सुरक्षित किए जाने की मांग की है।

शिकायती पत्र में देवेंद्र सिंह ,ओम सिंह ,रक्षपाल ,हरविलास ,मुंशीलाल ,राजपाल सिंह ,सोहन लाल ,बाबू राम अवतार ,रघुनाथ ,तिलक सिंह ,नेम पाल सिंह ,बादशाहा ,चंद्रपाल ,रामेश्वर ,विजय पाल सिंह सहित दर्जनों लोगों के हस्ताक्षर हैं|

समर इण्डिया ब्यूरो चीफ – जयकिशन सैनी

0 comment

You may also like

Leave a Comment