समर इंडिया । SAMAR INDIA

कोरोना संक्रमण की निरंतर बढ़ती दूसरी लहर की चपेट में आने से नगर के मुख्य बाजार के दो और व्यापारियों ने राजकीय मेडिकल कॉलेज बदायूँ में दम तोड़ा|

by Jay Kishan Saini
0 comment

सहसवान| कोरोना संक्रमण की निरंतर बढ़ती दूसरी लहर की चपेट में आने से नगर के मुख्य बाजार के दो और व्यापारियों ने राजकीय मेडिकल कॉलेज बदायूँ में दम तोड दिया| इससे पूर्व कोरोना संक्रमण तीन दर्जन से ज्यादा लोग मौत के मुँह में समा चुके है| जिसमें चिकित्सक,कई समाजसेवी, अध्यापक सम्भ्रांत लोग शामिल है| नगर का कोई भी मोहल्ला ऐसा नहीं बचा है| जिसमें कोरोना संकमण से मर्त्यु न हुई हो| इसके बावजूद भी लोग बिना मास्क लगाए| बेबजाह टहल रहे है| सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं कर रहे| शासन-प्रशासन द्वारा कड़ी चौकसी बरतने के बाबजूद लोग मानने को तैयार नही है| दिन पर दिन कोरोना संक्रमण के बढ़ रहे प्रकोप की चपेट में आने से दिनों दिन बढ़ते ग्राफ से सम्भ्रांत लोग तो भयभीत होते नजर आ रहे है| परंतू अधिकांश लोग कोरोना संक्रमण को लेकर जागरूक होना तो दूर दुसरो का भी उपहास उड़ाते नजर आ रहे है| कोरोना संक्रमण की जानलेवा दूसरी लहर की व अन्य वीमारियों की चपेट में आकर नगर एवं देहात इलाके मे कई दर्जन लोगो की मौत हो चुकी हैं| जबकि नगर में ही अब तक तीन दर्जन से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मौत के मुंह में समा चुके है|

नगर के मोहल्ला बजरिया निवासी व्यापारी  प्रदीप कुमार चांडक उर्फ पल्लू चांडक 63 वर्ष  पुत्र डॉ.ईश्वर सरन चांडक  एक लंबे समय से डायबटीज़ के पेसेंट के अलावा ह्रदय रोग से भी अस्वस्थ चल रहे थे| की कई दिन पूर्व उपरोक्त प्रदीप कुमार कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए| जिसके कारण परिजन उन्हें राजकीय मेडिकल कालेज बदायूँ उपचार बास्ते ले गए| जहाँ उनका उपचार चल रहा था उपचार के दौरान ही प्रदीप कुमार चांडक उर्फ पल्लू ने बीती रात दम तोड़ दिया| वहीं नगर के मोहल्ला सैफुल्लागंज निवासी इलेक्ट्रिशियन उमेश झंवर 65 वर्ष भी हार्ट पैसेंट होंने के साथ ही कई दिन पूर्व कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे| परिजन उन्हें उपचार वास्ते राजकीय मेडिकल कालेज बदायूँ ले गए थे| जहां उनका स्वास्थ्य निरन्तर गिरता ही चला गया| निरंतर गिर रहे स्वास्थ्य के चलते बीती रात उमेश झंवर ने भी दम तोड़ दिया| दोनों ही व्यपारियो की मौतो से व्यपारियो में शोक की लहर दौड़ गई हैं| परिजनों ने उनका कछला गंगा घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया|

समर इंडिया ब्यूरो चीफ – जयकिशन सैनी

0 comment

You may also like

Leave a Comment