समर इंडिया । SAMAR INDIA

निर्वाचन अधिकारी ने जिला निर्वाचन अधिकारी को मामले से अवगत कराते हुए नसीरपुर गौसू में पुनः मतदान कराए जाने की सिफारिश की।

by AMAN KUMAR SIDDHU
0 comment

सहसवान। सहसवान विकासखंड क्षेत्र में संपन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतगणना संपन्न होने के 3 दिन बाद निर्वाचन अधिकारी द्वारा 3 दिन से अधिकारियों को गुमराह करके ग्राम पंचायत नसीरपुर गोसू के वार्ड संख्या 79 महिला पद के लिए आरक्षित वार्ड की मतगणना रोककर निर्वाचन अधिकारी ने जिला निर्वाचन अधिकारी को मामले से अवगत कराते हुए पुन मतदान कराय जाने की सिफारिश की है। जबकि पत्रकारों को भी जानकारी से बिल्कुल महरूम रखा गया है मतगणना समाप्ति के तीन दिन बाद भी तीन ग्राम पंचायतों के क्षेत्र पंचायत सदस्यों का परिणाम घोषित न होने से मामला संदिग्ध होता जा रहा है। निर्वाचन अधिकारी पर उंगली उठना प्रारंभ हो गई है।
ज्ञात रहे सहसवान विकासखंड क्षेत्र में संपन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना 3 मई को समाप्त हो गई निर्वाचन अधिकारी ने भी जिला प्रशासन को मतगणना समाप्त होने के साथी सभी विजेताओं को प्रमाण पत्र देने की घोषणा करते हुए मामले से अवगत करा दिया जिला निर्वाचन अधिकारी निधि उत्तर प्रदेश निर्वाचन अधिकारी को सहसवान विकासखंड क्षेत्र में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कार्यक्रम मतगणना के उपरांत शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न होने की जानकारी उपलब्ध करा दी
बताया जाता है क्षेत्र पंचायत तथा ग्राम पंचायत सदस्य के निर्वाचन अधिकारी द्वारा सहसवान विकासखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत भीकमपुर टप्पा जामनी, नसीरपुर गोसू के अलावा एक अन्य ग्राम पंचायत क्षेत्र पंचायत सदस्यों का परिणाम मतगणना समाप्ति के तीसरे दिन भी विजेताओं को नहीं दिया जा सका जिससे निर्वाचन अधिकारी पर उंगली उठना प्रारंभ हो गई है 3 मई को निर्वाचन अधिकारी क्षेत्र पंचायत सदस्य ने स्वयं पत्रकारों को अवगत कराया सभी क्षेत्र पंचायत सदस्यों तथा ग्राम पंचायत सदस्यों के परिणामों की घोषणा कर दी गई है तथा सभी विजेताओं को प्रमाण पत्र का वितरण भी कर दिया गया है। उसके बावजूद भी बीते 3 दिन से विकासखंड कानपुर निर्वाचन अधिकारी द्वारा नामांकन पत्र जमा करने के लिए बने कार्यालय पर प्रमाण पत्रों का वितरण किया जा रहा है जहां भारी तादाद में दलाल प्रवृत्ति के लोगों की भरमार दिखाई दे रही है।
बताया जाता है। ग्राम पंचायत नसीरपुर गौसू क्षेत्र पंचायत सदस्य वार्ड संख्या 79 महिला के लिए आरक्षण मतगणना रोक दी गई है।
आरोप है। की क्षेत्र पंचायत सदस्य के लिए तीन प्रत्याशी महिला मैदान में थी। जिनमें 2 प्रत्याशियों के चुनाव चिन्ह मतपत्र अंकित थे जबकि एक प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह मतपत्र पर अंकित नहीं था थे जिसके कारण मतगणना रोक दी गई बताया जाता है की बीते 3 दिन से उपरोक्त ग्राम पंचायत के विजेता ग्राम पंचायत सदस्य के मध्य सौदेबाजी का खेल चलता रहा जब सौदेबाजी मन मासिक नहीं हो पाई तब निर्वाचन अधिकारी ने आरोप है ग्राम पंचायत नसीरपुर गौसू के क्षेत्र पंचायत सदस्य वार्ड 79 का परिणाम रद्द करते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी से पुनः क्षेत्र पंचायत सदस्य वार्ड 79 पुनः मतदान कराए जाने की सिफारिश की है जबकि ग्राम पंचायत भीकमपुर टप्पा जामनी के क्षेत्र पंचायत सदस्य के प्राण की भी घोषणा नहीं की गई है जिसके कारण असमंजस की स्थिति बनी हुई है। इसके अलावा एक अन्य ग्राम पंचायत के क्षेत्र पंचायत सदस्य का भी परिणाम घोषित नहीं किया गया है दबी जुबान में लो जानकारी देने से कतरा रहे क्षेत्र पंचायत सदस्य एवं ग्राम पंचायत सदस्य पद के निर्वाचन अधिकारी द्वारा तीसरे दिन भी विजेता सदस्यों को प्रमाण पत्र का वितरण करते देखे गए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का परिणाम घोषित होने के उपरांत यह पहला मामला है। की ग्राम पंचायत नसीरपुर गोसू में क्षेत्र पंचायत सदस्य के वार्ड 79 के लिए पुनः मतदान कराए जाने की निर्वाचन अधिकारी ने जिला निर्वाचन अधिकारी से सिफारिश की है। अब देखना है की ग्राम पंचायत नसीरपुर गौसू के क्षेत्र पंचायत सदस्य वार्ड 79 के लिए कब मतदान होगा। इस पर लोगों की निगाहें टिकी हुई है।

समर इंडिया ब्यूरो चीफ – जयकिशन सैनी

0 comment

You may also like

Leave a Comment