समर इंडिया । SAMAR INDIA

सत्ता से बाहर फेंके जाने पर पाकिस्तान की तारीफ करने लगते हैं कश्मीरी नेता: जीतेंद्र सिंह

by chalunews
0 comment

[ad_1]


जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती के बयान पर केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने पलटवार किया है. मुफ्ती पर हमला करते हुए सिंह ने कहा कि यह कश्मीर के नेताओं की फितरत है जो समय के साथ बदलते रहते हैं.

उन्होंने कहा, ‘समय वास्तव में बदलता है और कश्मीर-आधारित राजनेता भी समय के साथ बदलते हैं. और मुझे लगता है कि सबसे स्पष्ट बात यह है कि जब वे सत्ता में होते हैं तो भारत की शपथ लेते हैं, लेकिन जब सत्ता से बाहर फेंक दिए जाते हैं तो वे पाकिस्तान की प्रशंसा शुरू कर देते हैं. यह उनकी प्रचलित कला रही है.’

Jitendra Singh, MoS PMO on Mehbooba Mufti:Time indeed changes&Kashmir-based politicians also change with time&I think the most evident part is that when in power they swear by India,when thrown out of power they start singing praises of Pakistan.This has been their practised art. pic.twitter.com/JHtLApEBpe
— ANI (@ANI) February 10, 2019

महबूबा मुफ्ती ने की पाकिस्तान की तारीफ

दरअसल जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने पाकिस्तानी की तारीफ करते हुए कहा था कि पाकिस्तान में उन्होंने मंदिरों को बचाने के लिए एक एक्ट बनाया है और गुरु नानक जी के नाम पर वह एक वन और विश्वविद्यालय का नाम भी रखना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘यदि आप तुलना करते हैं तो आप महसूस करेंगे कि धर्म के आधार पर गठित पाकिस्तान और धर्मनिरपेक्षता की बुनियाद पर गठित अपने देश में किस तरह का अंतर है.’

Mehbooba Mufti: In Pakistan they formed an Act to save temples&want to name a forest reserve&a university after Guru Nanak ji. If you compare you’ll feel that there is some kind of exchange b/w our nation formed on foundation of secularism & Pakistan formed on basis of religion. https://t.co/mE9mHZ0jvd
— ANI (@ANI) February 10, 2019

इसी के साथ मुफ्ति ने कहा था, ‘भारत में मुस्लिम नामों वाले स्मारकों और पुराने शहरों को हिंदू नाम दिए जा रहे हैं. मंदिर बनाने की भी सबको जल्दी है. गाय के नाम पर मुसलमानों को मारा जा रहा है, कार्रवाई करने के बजाय सरकार उन्हें मध्य प्रदेश की तरह एनएसए के तहत जेलों में डाल देती है. हिंदुत्व के नाम पर राजनीति की जा रही है.’

[ad_2]

Source link

0 comment

You may also like

Leave a Comment