समर इंडिया । SAMAR INDIA

J&K: 35A पर सुनवाई से पहले अलगाववादी नेता JKLF चीफ यासीन मलिक हिरासत में

by chalunews
0 comment

[ad_1]


पुलवामा अटैक के बाद कश्मीर में अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटाने के बाद अलगाववादी नेता जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चीफ यासीन मलिक को गिरफ्तार कर लिया गया है.

ANI की  जम्मू कश्मीर में अलगाववादियों पर व्यापक कार्रवाई के संकेतों के बीच शुक्रवार रात जेकेएलएफ प्रमुख यासीन मलिक को हिरासत में ले लिया गया. कहा जा रहा है कि मलिक को सुप्रीम कोर्ट में होने वाली आर्टिकल 35ए पर सुनवाई से पहले हिरासत एहतियातन हिरासत में लिया गया है. ये सुनवाई सोमवार को हो सकती है.

Jammu Kashmir Liberation Front Chief Yasin Malik was detained from his residence in Srinagar last night, ahead of hearing on Article 35A in Supreme Court which is likely to take place on Monday. pic.twitter.com/S8c9QFhG1e
— ANI (@ANI) February 23, 2019

राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी लीडर महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर इस हिरासत का विरोध किया है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘पिछले 24 घंटों में हुर्रियत नेताओं और जमात संगठनों के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. ऐसा मनमाना कदम समझ से परे है, जिससे राज्य में स्थितियां बस बिगड़ेंगी ही. किस कानूनी आधार पर इनकी हिरासत वैध है? आप किसी शख्स को गिरफ्तार कर सकते हो, उसके विचारों को नहीं.’

In the past 24 hours, Hurriyat leaders & workers of Jamaat organisation have been arrested. Fail to understand such an arbitrary move which will only precipitate matters in J&K. Under what legal grounds are their arrests justified? You can imprison a person but not his ideas.
— Mehbooba Mufti (@MehboobaMufti) February 23, 2019

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है. हालांकि अभी किसी और के हिरासत में लिए जाने की पुष्टि नहीं की गई है. पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर भीषण आतंकवादी हमले के आठ दिन बाद यह कार्रवाई सामने आई है. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

[ad_2]

Source link

0 comment

You may also like

Leave a Comment