समर इंडिया । SAMAR INDIA

पीएम मोदी ने कहा, 2019 का लोकसभा चुनाव स्थिरता बनाम कमजोरी के बारे में है

by chalunews
0 comment

[ad_1]


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2019 का चुनाव कमजोरी के खिलाफ ताकत देने के बारे में है. उन्होंने कहा कि बीजेपी नीत एनडीए स्थिरता प्रदान करेगी. विपक्ष और वंशवादी राजनीति पर प्रहार करते हुए मोदी ने कहा, ‘मेरा एकमात्र परिवार 130 करोड़ भारतीय हैं. मैं उनके लिए जीता हूं. मैं उनके लिए ही मरूंगा.’

रेल और सड़क क्षेत्र में कुछ परियोजनाओं का उद्घाटन करते हुए मोदी ने कांग्रेस नेता पी चिदंबरम पर निशाना साधा. उन्होंने कहा ‘रिकाउन्टिंग (पुनर्गणना) मंत्री’ को अब पार्टी के प्रथम परिवार की तरह जमानत के लिए आवेदन करना होगा. उनका निशाना एयरसेल-मैक्सिस मामले पर था.

उन्होंने कहा, ‘2019 के लोकसभा चुनाव में दो अलग-अलग पक्ष हैं. हमारा पक्ष ताकत और स्थिरता की पेशकश करता है.’ दूसरा पक्ष कमजोरी और नाजुक बनने की पेशकश करता है. उन्होंने कहा, ‘हमारे नेताओं की संस्कृति समूचे भारत में लोग जानते हैं. लेकिन दूसरा पक्ष भ्रम में है. उनके पास राष्ट्रीय नेता के तौर पर कोई नाम नहीं है और उनके पास भारत के विकास के लिए कोई दृष्टि नहीं है.’

मोदी विपक्षी पार्टियों के प्रस्तावित महागठबंधन को ‘महामिलावट’ बताते रहे हैं. 2009 के चुनावों को याद करते हुए मोदी ने डीएमके-कांग्रेस गठबंधन पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मंत्रियों को प्रधानमंत्री ने नहीं चुना, बल्कि उन लोगों ने चुना जिनका सार्वजनिक सेवा से कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘मंत्री पद के लिए टेलीफोन पर सौदेबाजी हो रही थी.’ उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ ऐतिहासिक कदम उठाए, जिसके तहत फर्जी कंपनियों को बंद किया गया है.

उन्होंने कहा, ‘भ्रष्ट को उत्तर देना है. प्रसिद्ध रिकाउन्टिंग मंत्री, जो बुरा बर्ताव करने, मध्यम वर्ग का अपमान करने में गर्व महसूस करते हैं, उन्हें उनकी पार्टी के प्रथम परिवार की तरह जमानत के लिए आवेदन करना पड़ा है.’ मोदी कई मौकों पर चिदंबरम को यूपीए का ‘रिकाउन्टिंग मंत्री’ बता चुके हैं. राज्यसभा सदस्य चिदंबरम 2009 के लोकसभा चुनाव में तमिलनाडु के शिवगंगा से 3354 मतों के मामूली अंतर से चुनाव जीते थे. भ्रम की स्थिति तब बन गई थी जब चुनाव अधिकारियों ने अंतिम दौर के मतों की गणना को लेकर विवाद की वजह से नतीजे की घोषणा करने में देरी कर दी थी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि एनडीए सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है. साथ ही वह ईमानदार कर दाताओं को पुरस्कृत कर रही है. उन्होंने कहा, ‘बजट के दौरान ठीक एक महीने पहले इस बात की घोषणा की गई थी कि सालाना पांच लाख रुपए की आय वाले लोगों को आयकर का भुगतान नहीं करना होगा. इतने लंबे सालों तक भारत पर शासन करने वाले लोगों ने मध्यम वर्ग के बारे में नहीं सोचा.’ कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा कि वह एक ऐसी आर्थिक संस्कृति को बढ़ावा दे रही थी, जिससे एक ‘बड़े वंश’के मित्रों और परिवार के सदस्यों को फायदा हो रहा था.

मोदी ने कहा, ‘अगर किसी ने कांग्रेस की आर्थिक संस्कृति के बारे में बोला तो वह थे तमिलनाडु के लाल सी राजगोपालाचारी.’ उन्होंने कहा, ‘हम एक ऐसी अर्थव्यवस्था बनाकर राजाजी के सपने को पूरा कर रहे हैं जो सुधारोन्मुखी और जनोन्मुखी है.’ उन्होंने विपक्ष पर सामाजिक न्याय और कांग्रेस के शासनकाल के दौरान दलितों पर कथित तौर पर हुए अत्याचार के प्रति कोई प्रतिबद्धता नहीं दिखाने का आरोप लगाया. मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस ने डॉ. भीमराब आंबेडकर को एक नहीं बल्कि दो बार हरवाया. कांग्रेस ने 40 वर्षों तक आंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया और उसने संसद के केन्द्रीय कक्ष में आंबेडकर की तस्वीर नहीं लगाई.’

[ad_2]

Source link

0 comment

You may also like

Leave a Comment