उत्तर प्रदेश

7 वर्ष पूर्व वैवाहिक बंधन में बंधी महिला ने न्यायालय में प्रेमी के साथ रहने की इच्छा जाहिर की,

पति दहाड़े मारकर न्यायालय परिसर में ही रो पड़ा जो नगर में चर्चा का विषय बना।

7 वर्ष पूर्व वैवाहिक बंधन में बंधी महिला ने न्यायालय में प्रेमी के साथ रहने की इच्छा जाहिर की,

पति दहाड़े मारकर न्यायालय परिसर में ही रो पड़ा जो नगर में चर्चा का विषय बना।
रिपोर्ट – एस.पी सैनी

सहसवान। 7 वर्ष पूर्व वैवाहिक बंधन में बंधी हुई एक अबोध बालक की मां प्रेमी के इश्क में पागल होकर दूधमुंह बच्चे को लेकर नगर के एक मोहल्ले में किराए पर रही विवाहिता पति को सोता छोड़कर प्रेमी के साथ नौ दो ग्यारह हो गई पति ने पत्नी को काफी जगह तलाश किया जब पता नहीं चला तो उसने थाना कोतवाली सहसवान में प्रार्थना पत्र देकर पत्नी को तलाश कराए जाने की मांग की। तथा उप जिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय में एक परिवाद दायर करते हुए पत्नी को सकुशल बरामदगी कराए जाने के उद्देश्य से न्यायालय से सर्च वारंट जारी कराया जिस पर पुलिस ने प्रेमी के साथ फरार हुई महिला को गिरफ्तार कर महिला की मां एवं एक अन्य युवक को शांति भंग करने के अपराध में गिरफ्तार कर उपजिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय में पेश किया। जहां महिला ने प्रेमी के साथ रहने की इच्छा जाहिर कि जिस पर उप जिला मजिस्ट्रेट ने महिला को उसके प्रेमी के साथ पुलिस अभिरक्षा में जाने की इजाजत दे दी बेचारा पति न्यायालय के समक्ष दहाड़े मारकर रोने लगा जिसे देखकर न्यायालय के बाहर काफी भीड़ जमा हो गई जो नगर में चर्चा का विषय रहाI

थाना जरीफनगर क्षेत्र के ग्राम भोजीपुरा पावई निवासी पप्पू पुत्र सियाराम ने थाना कोतवाली पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया कि उसकी शादी थाना रजपुरा जिला संभल के ग्राम निजामपुर निवासिनी एक युवती के साथ 7 वर्ष पूर्व विधि विधान से हुई थी तथा वे अपनी पत्नी  के साथ अपना वैवाहिक जीवन जी रहा था वह अपनी पत्नी  तथा एक 17 माह के नवजात शिशु के साथ नगर के मोहल्ला नवादा में में एक किराए के मकान में रहने लगा जहां 9 दिसंबर वर्ष 2022 को हरबीर पुत्र जयपाल जयवीर पुत्र करूं रात्रि में 9 बजे के लगभग बहला-फुसलाकर भगा ले गया उसे काफी तलाश किया परंतु वह नहीं मिली पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर उसने पुलिस से अपनी पत्नी को बहला-फुसलाकर ले जाने वाले लोगों पर हत्या करने की आशंका व्यक्त की तथा उसे सकुशल बरामद कराए जाने की मांग की वही थाना कोतवाली पुलिस से न्याय न मिलने पर पप्पू ने उप जिला मजिस्ट्रेट सहसवान की न्यायालय में धारा 97/98/100. परिवाद वाद दायर करते हुए न्यायालय से पत्नी को सकुशल बरामद कराए जाने के लिए सर्च वारंट जारी करने की गुहार की उप जिला मजिस्ट्रेट ने थाना कोतवाली पुलिस को महिला का सर्च वारंट जारी करते हुए बयान हेतु न्यायालय के समक्ष हाजिर करने के निर्देश दिए जिस पर थाना कोतवाली पुलिस के उपनिरीक्षक विकास पूनिया महिला आरक्षी प्रीति ने उपरोक्त महिला को गिरफ्तार कर लिया तथा वही महिला की माता तथा प्रमोद पुत्र नत्थू थाना शाहाबाद जनपद रामपुर को शांति भंग करने के जुर्म में गिरफ्तार कर उपजिला मजिस्ट्रेट के न्यायालय में बयान हेतु बयान हेतु पेश किया जहां महिला ने पप्पू पुत्र सियाराम के साथ अपना विवाह होना तो स्वीकार किया परंतु उस पर शराब पीकर मारपीट गाली-गलौज करने का आरोप लगाते हुए उसके साथ रहने से इंकार कर दिया उसने कहा कि वह वर्तमान में अपने माता पिता के साथ दिल्ली में पनवारी में रह रही है। उसने कहा उसने वर्तमान में हरवीर को अपना पति मान चुकी है। तथा उसी के साथ रहना चाहती है उसके साथ एक बच्चा भी है जो हर वीर का है मजिस्ट्रेट ने उपरोक्त महिला को आजाद करते हुए उसे मनचाही जगह पर सकुशल पहुंचाने की थाना कोतवाली पुलिस को निर्देश दिए न्यायालय महिला के आजाद होने के आदेश मिलते ही उसका पति दहाड़े मारकर न्यायालय के बाहर रोने लगा जिस पर काफी तादाद में भीड़ एकत्रित हो गई जो नगर में चर्चा का विषय रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + four =

Back to top button
error: Content is protected !!
E-Paper